विभाग की लड़ाई छोड़, कानून व्यवस्था पर ध्यान दें सीएम-गृह मंत्री : दीपेन्द्र हुड्डा

0
Dependra Hooda

बोले-एनसीआरबी की रिपोर्ट ने खोली पोल, प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति बदतर

रोहतक (सच कहूँ/नवीन मलिक )। कांग्रेस के पूर्व सांसद दीपेन्द्र हुड्डा (Dependra Hooda) ने कहा कि एनसीआरबी की रिपोर्ट ने हरियाणा में कानून व्यवस्था की बदतर स्थिति की पोल खोल दी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासनकाल में विकास के मामले में हरियाणा एक नंबर पर था, लेकिन आज 18वें नंबर पर पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि विगत पाँच वर्षों में प्रदेश में आपराधिक घटनाओं में लगातार बढ़ोतरी हो रही है, लेकिन मुख्यमंत्री और गृह मंत्री सीआईडी किसकी है, इस पर लड़ाई कर रहे है, जबकि सरकार को इस लड़ाई को बंद कर बिगड़ती कानून व्यवस्था पर ध्यान देना चाहिए।

 दीपेन्द्र सिंह हुड्डा रोहतक पहुंचे और आवास पर कार्यकर्ताओं से की मुलाकात

बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि सरकारी आंकडों से साबित हो चुका है आज प्रदेश में जंगलराज कायम हो चुका है। हरियाणा सामाजिक बुराई में शीर्ष पायदान पर आ गया है। महिला सुरक्षा के तमाम दावों की पोल खुल चुकी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों के हितों को लेकर गंभीर नहीं है। मुख्यमंत्री व गृहमंत्री सीआईडी को लेकर झगड़ते रहते हैं।

  •  हरियाणा में हर मां-बाप इस बात से चिंतित हैं
  •  उनकी बेटी जो पढ़ने-लिखने या काम पर जाती है वो शाम को सुरक्षित घर लौटेगी या नहीं।
  • महिला सुरक्षा के तमाम खोखले दावों के विपरीत महिलाओं के खिलाफ अपराध दर लगातार वृद्धि हो रही है।
  • राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो भी यह बात कह चुका है
  • हरियाणा में महिलाओं के खिलाफ अपराधो में बढोतरी हुई है।

अपराध का कारण बढ़ती बेरोजगारी

दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि अपराध बढ़ने का सबसे बड़ा कारण तेजी से बढ़ती बेरोजगारी है। देश और प्रदेश की जनता बेरोजगारी, मंदी, महंगाई की विकराल समस्याओं और सरकार की जनविरोधी नीतियों से परेशान है। उन्होंने कहा कि सरकार मुख्य समस्याओं से ध्यान भटकाने के लिये ही गैर-मुद्दों को मुद्दा बनाकर जनता का ध्यान भटका रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस विपक्ष की मजबूत भूमिका में है और लोगों की समस्याओं को प्रमुखता से उठाया जाएगा।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।