मकान की छत गिरने से परिवार के चार सदस्यों की मौत

0
house collapse

मृतकों में पति-पत्नी सहित दो बच्चें हैं शामिल

  • अपने माता-पिता व बहन के साथ एक तंबू में रहा था दीपक

सुनाम ऊधम सिंह वाला/ संगरूर (सच कहूँ न्यूज)। शहर के ओलंपिक स्टेडियम नजदीक एक मकान की छत गिरने से दबकर एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई। इससे पति-पत्नी और दो बच्चें शामिल हैं। हादसे में परिवार के तीन अन्य सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर के इन्द्रा बस्ती स्थित वार्ड नंबर 20 निवासी बलवीर कुमार नामक व्यक्ति रात को अपने परिवार सहित एक कमरे के मकान में रह रहा था। वह अपनी पत्नी और बेटी सहित मकान की छत पर बनाए एक अस्थायी तंबू में ही सोया हुआ था। उसका पुत्र दीपक कुमार, पुत्रवधू जानवी व दो बच्चों बवी व नवी नीचे कमरे में सोये हुए थे। रात्रि लगभग 12 बजे घर की छत पुरानी होने और बरसाती पानी रिसने के कारण छत अचानक गिर गई।

  • इससे कमरे में सोये दीपक कुमार, उसकी पत्नी जानवी और उनके दोनों बच्चे छत के मलबे में दब गए।
  • छत्त गिरने के बाद बलवीर ने मदद के लिए शोर मचाया तो आसपास के लोगों ने पहुंचे और बचाव कार्य शुरू किया।
  • हादसे के बारे में पुलिस को भी सूचित किया गया।
  • नई अनाजमंडी पुलिस चौकी के इंचार्ज सब-इंस्पेक्टर कर्म सिंह पुलिस दल के साथ मौके पर पहुंचे
  • और लोगों की मदद के साथ मलबे के नीचे दबे घर के सदस्यों को बाहर निकाला।
  • घायलों को अस्पताल ले जानेके लिए एंबुलेंस सेवा में फोन किया।
  • एंबुलेंस के आने में देरी होती देख लोगों ने खुद ही अपने वाहनों में घायलों को सिविल अस्पताल पहुंचाया।

तीन घायलों को इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में करवाया भर्ती

अस्पताल में डाक्टरों ने दीपक कुमार (27) पुत्र बलवीर कुमार, जानवी (25) पत्?नी दीपक कुमार, बवी (9) और नवी (7) को मृत घोषित कर दिया। घायल दीपक के पिता बलवीर चंद, माता कृष्णा देवी और विवाहित बहन रेखा शामिल हैं, जिन्हें इलाज के लिए सुनाम के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया गया। डीएसपी सुखविंदरपाल सिंह, एसएचओ जतिंदरपाल सिंह, नायब तहसीलदार अमित कुमार ने मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया। वार्ड के पार्षद ऋषीपाल ने बताया कि हादसे की खबर लगते ही पूरी टीम के साथ पहुंचे और मलबे में दबे सभी सदस्यों को सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। विधायक अमन अरोड़ा भी सरकारी अस्पताल में पहुंचे और पीड़ित परिजनों से संवेदना जताई।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।