महापुरुषों ने समाज से हटाई कुरीतियां : राज्यपाल

0
Foundation Stone

डॉ. बी.आर. अंबेडकर भवन का किया शिलान्यास

कुरुक्षेत्र (सच कहूँ न्यूज)।

हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने कहा कि जब-जब देश और समाज में ऊंच-नीच, भेदभाव, जाति-पाति, धर्मभेद आदि कुरीतियों का जन्म हुआ है, तब-तब अनेक महापुरूषों ने इस धरती पर जन्म लिया है। बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर जी संघर्ष के एक जीते जागते उदाहरण हैं। वे मंगलवार को डा. भीमराव अम्बेडकर सामाजिक कल्याण एवं शिक्षा समिति द्वारा गांव खानपुर रोड़ान में आयोजित सामाजिक समरसता सम्मेलन में बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे।

बाबा साहेब ने देश को एकसूत्र में पिरोने का काम किया

इससे पहले राज्यपाल ने गाँव में बनने वाले डा. भीमराव अम्बेडकर भवन का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब डा. अम्बेडकर जी ने गरीबों के उत्थान के लिए तीन सूत्र दिये शिक्षित बनो, संगठित रहो, संघर्ष करो। संविधान के रचियता बाबा साहेब डा. भीमराव अंबेडकर ने देश को एकसूत्र में पिरोने का काम किया। उन्होंने समाज में दबे-कुचले और गरीब लोगों को आगे लाने के लिए शिक्षा के अवसर उपलब्ध करवाए। कोई भी इन्सान ऊंचा उठना चाहे तो वह शिक्षा, संघर्ष, कड़ी मेहनत, ईमानदारी से ही ऊंचा उठ सकता है।]

Fund देने की घोषणा

विशिष्ट अतिथि सांसद नायब सिंह सैनी ने कहा डॉ. भीमराव अम्बेडकर ने देश को एक सूत्र में बांधने का काम किया। उन्होंने संविधान की रचना की तथा समानता का अधिकार देने का काम किया। इस मौके पर सांसद ने 5 लाख रुपए डा. भीमराव अम्बेडकर भवन के लिए और 5 लाख रुपए समाज सेवा समिति कुरुक्षेत्र के लिए देने की घोषणा की है।

इस मौके पर उपायुक्त डॉ. एसएस फुलिया, एडीसी पार्थ गुप्ता, एसडीएम पिहोवा डा. संजय कुमार, थानेसर व पिहोवा के बीडीपीओ राजेश कुमार, राज्यपाल के सुपुत्र कौशल किशोर के अलावा पूर्व मंत्री बलबीर सिंह सैनी, स्कूल की हैड टीचर निशा शर्मा सहित जिला प्रशासन के आलाधिकारी व संस्था के अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।