हत्या में इस्तेमाल किए हथियारों सहित पांच गिरफ्तार

0
Five Arrested, Including, Weapons, Murder, Pujnab

मामला : मछली तालाब की देखभाल करने वाले बिहारी परिवार के तीन सदस्यों को अज्ञात व्यक्तियों द्वारा 6 जुलाई की रात को गंभीर रूप में घायल कर लूट की वारदात को दिया गया था अंजाम

लुधियाना/जगराओं। हलका दाखा में आते गांव पंडोरी के जीटी रोड पर बने मछली तालाब की देखभाल करने वाले बिहारी परिवार के तीन सदस्यों को अज्ञात व्यक्तियों द्वारा 6जुलाई की रात को गंभीर रूप में घायल कर लूट की वारदात को अंजाम दिया गया था, जिसके बाद एक महिला की लुधियाना के सिविल अस्पताल में मौत हो गई थी व अन्य सदस्य निजी हस्पताल में उपचाराधीन हैं। इस हत्या की गुत्थी को सुलझाते हुए पुलिस ने 10 दिनों के अंदर ही पांच लुटेरों को वारदात में इस्तेमाल किए गए हथियारों व लूट के सामान सहित काबू कर लिया गया।

जगराओं के एसएसपी कार्यालय में आयोजित कान्फ्रÞेंस दौरान जगराओं के एसएसपी वरिन्दर सिंह बराड़ सहित अन्य पुलिस आधिकारियों ने बताया कि रामकली पत्नी रजिन्दर रजक निवासी बिहार हाल निवासी पंडो के बयानों पर थाना दाखा में मामला दर्ज किया था कि उसका लड़का सुधीर रजक अपने परिवार सहित गांव पंडों में जीटी रोड के नजदीक बने मछली तालाब की देखभाल करता पर वहीं ही रहता है। उसका लड़का सुधीर वापिस अपने गांव बिहार गया हुआ था। मछली तालाब की देखभाल के लिए उनका एक अन्य नौकर विनोद बाबन भी रहता है। 6 जुलाई की रात 1/2बजे जीटी रोड की तरफ से तीन व्यक्ति भागकर उनकी तरफ आए जिनके पास लोहे के रॉड व अन्य हथियार थे।

जिन्होंने उनकी मारपीट की और परिवार की महिला संगीता द्वारा विरोध करने पर लुटेरों ने उसके सिर पर लोहे की रॉड से हमला किया जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई। लुटेरों ने महिला के कानोें में पहनी सोने की वाली व पैरों में डालीं चांदी की पायल, एक चैन चांदी सहित नगदी लेकर फरार हो गए। परिवार का शोर सुनकर तालाब के नजदीक ही रहते शंभू गुज्जर ने आकर गाड़ी द्वारा विनोद बाबन को ईलाज के लिए अरोड़ा अस्पताल लुधियाना दाखिल कराया व संगीता को सिविल अस्पताल लुधियाना में दाखिल करवाया जहां संगीता देवी के अधिक चोटें लगने से उसकी मौत हो गई।

लुधियाना पुलिस ने सुलझाई हत्या की गुत्थी, गिरफ्तार आरोपियों से की जा रही पूछताछ

पुलिस आधिकारियों ने बताया कि मामले की कार्रवाई एसपी इंवैस्टीगेशन रवीन्द्र कुमार भारद्वाज की निगरानी में डीएसपी इन्नवैस्टीगेशन, अमनदीप सिंह बराड़, डीएसपी दाखा हरकमल कौर बराड़, इंस्पेक्टर लखवीर सिंह इंचार्ज सीआईए सहित अन्य अधिकारियों मेहनत के साथ मामले को ट्रेस करते हुए पांच लुटेरे सुखमिन्दर सिंह उर्फ गोली पुत्र हरमेल सिंह निवासी पंडोरी थाना दाखा, पिन्दर कुमार उर्फ पिन्दा पुत्र तरसेम लाल, राजवीर सिंह उर्फ बंटी पुत्र जीवन सिंह, बलजीत सिंह उर्फ मोटा पुत्र बखतौर सिंह, सन्दीप सिंह उर्र्फ खोसा पुत्र सुखदेव सिंह निवासी मोगा को गिरफ़्तार कर उनके कब्जे से इस वारदात में इस्तेमाल किए गए हथियारों व लूट के सामान सहित काबू कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि गिरफ़्तार किए गए आरोपियों का पुलिस रिमांड हासिल कर और पूछताछ की जाएगी, जिनसे और भी खुलासे होने की संभावना है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।