खेतों में आग बुझाने 10 मिनट में पहुंचेगी दमकल

0
Fire department alert

फसल को बचाने के लिए विभाग ने कसी कमर

(Fire Department Alert)

  • सरकार ने कर्मचारियों की छुटियां रद्द

रोहतक (नवीन मलिक/सच कहूँ)। प्रदेश में आग से नष्ट होने वाली गेहंू की फसल को बचाने के लिए सरकार ने दमकल विभाग को अलर्ट कर दिया है। साथ ही पूरे प्रदेश में फसल की कटाई के बाद जलाने वाले फांस पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। दमकल विभाग के कर्मचारियों की ड्यूटी बढ़ा दी गई है और तहसील व उपमंडल स्तर पर गाड़ी तैनात रखने के लिए कहा गया है। ताकि सूचना मिलते ही दस मिनट के भीतर दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंच सके। इसके अलावा कर्मचारियों की छुट्टियां भी रद्द की गई हैं।

ध्यान रहे कि प्रदेशभर में आगजनी के कारण हर साल हजारों एकड़ फसल जलकर राख हो जाती है। इससे किसान को दोहरी मार झेलनी पड़ती है। आगजनी के बाद जो मुआवजा मिलता है, वह बेहद कम होने के कारण किसान के घाटे की भरपाई भी नहीं हो पाती है। साथ ही किसान को ही आग बुझाने के लिए दकमल की गाड़ी को भी प्रति घंटे के हिसाब से रुपये देने पड़ते है। इस बार प्रदेश सरकार ने दमकल विभाग को निर्देश जारी किए हैं।

खेत में अवशेष जलाने पर प्रतिबंध, तहसीलदार रखेंगे नजर

सरकार ने इस बारे में दमकल विभाग मुख्यालय को पत्र लिखा है कि वे हर समय अलर्ट रहे और किसी प्रकार की लापरवाही ना बरतें। विभाग में एक अलग से टेलीफोन नंबर भी उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अलावा मुख्यालय के साथ-साथ उपमंडल स्तर पर भी एक-एक गाडी तैनात रहेगी। (Fire Department Alert) यह गाड़ी फसल की कटाई होने तक नगर पालिका में रहेगी और वहीं से आॅपरेट की जाएगी। उपायुक्त आर.सी. वर्मा का कहना है कि विभाग को अलर्ट कर दिया गया है। साथ ही किसानों को भी हिदायत दी गई है कि कटाई तक वह अवशेष खेतों में ना जलाएं।

कर्मचारियों की छुटियां की रद्द

इस वक्त गेहूं की फसल की कटाई का सीजन चल रहा है और आगजनी की घटनाओं को देखते हुए दमकल विभाग ने सभी कर्मचारियों की छुटियां रद्द करने के आदेश जारी किए है। साथ ही सभी कर्मचारियों को अर्लट रहने को कहा गया है। दमकल विभाग में कुल 75 कर्मचारी तैनात है जिनमें से 44 कर्मचारी अस्थाई और 31 कर्मचारी स्थाई नियुक्त है। दमकल विभाग के प्रभारी रमेश कुमार का कहना है कि अगजनी की घटनाओं की संभावना को देखते हुए कर्मचारियों की छुट्टीयों के आदेश जारी किए गए है। साथ ही जरुरत पडने पर कर्मचारियों को घर से बुलाया जा सकता है।

11 गाडियां हर समय रहती है तैयार

  • दमकल विभाग के पास 11 गाड़ियां है।
  • जिनमें नौ बड़ी और दो छोटी गड़ियां हैं।
  • इन गाड़ियों को हर समय तैयारी की स्थिति में खड़ा रखा जाता है।
  • कि सूचना मिलने के तुरंत बाद गाड़ियों बिना समया गंवाए रवाना किया जाए।
  • सांपला व महम उपमंडल पर भी गाड़ी को खड़ा किया गया है।
  • जरुरत पड़ते ही समय पर गाड़ी मौके पर पहुंच सकें।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।