आजादी दिवस को काला दिवस मनाएंगे आढ़ती-किसान

0
Agricultural Crisis, Change, Grain, Farmer, Government
  • भाकियू ने लिया फैसला, चढूनी ने लगाया सरकार पर आरोप
  • काले झंडे ले मुख्यालय पर पहुंच सौंपेंगे ज्ञापन, फूकेंगे अध्यादेश की प्रतियां

चरखी दादरी (सच कहूँ न्यूज)। भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने केन्द्र सरकार द्वारा जारी तीन अध्यादेश को लेकर आढ़ती-किसान विरोधी करार देते हुए सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। अध्यादेशों के विरोध में भाकियू द्वारा आढ़ती व किसानों ने मिलकर आजादी दिवस को काला दिवस के रूप में मनाने का फैसला लिया है। वहीं उन्होंने 10 सितम्बर को देशभर में बड़ा आन्दोलन करने की बात कही, जिसको लेकर मीटिंग की जाएगी। चढूनी ने दादरी की नई अनाजमंडी में आढ़तियों व किसानों की मीटिंग को संबोधित किया।

उन्होंने कहा कि तीनों अध्यादेश किसान व आढ़ती के हित में नहीं होने कारण 15 अगस्त आजादी दिवस को काला दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस दौरान आढ़ती-किसान काले झंडे लेकर मुख्यालय पर पहुंच डीसी को ज्ञापन सौंपेंगे, और तीनों अध्यादेश की प्रतियां फूकेंगे। अगर सरकार ने उनकी मांगों को पूरा नहीं किया तो देश भर में आंदोलन शुरू किया जाएगा, जिसकी शुरूआत हरियाणा से होगी। वहीं आगामी 10 सितम्बर को देशभर में बड़ा आन्दोलन किया जाएगा।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।