यूपी से हरियाणा में आए धान से भरे 2 ट्रकों को किसानों ने घेरा

0
Farmers surrounded 2 paddy filled trucks from UP to Haryana

 पुलिस ने ट्रकों को पंजाब क्षेत्र के लिए किया रवाना

  •  पंजाब के लिए भरा था धान, पंजाब के किसानों ने बॉर्डर से वापिस लौटाया
ओढां/ राजू । पंजाब बॉर्डर से सटे गांव सुरतिया से रोड़ी के मध्य धान से भरे खड़े 2 ट्रकों को खड़ा देखकर किसानों ने दोनों ट्रकों को घेर लिया। कि सानों ने जब ट्रक चालकों से यहां खड़े रहने का कारण पूछा तो उन्होंने जवाब दिया कि ट्रक में धान भरा हुआ है और वे यूपी से आए हैं। ट्रक चालकों ने लोगों को कागज दिखाते हुए कहा कि एक ट्रक को मलोट व एक को अबोहर जाना है। लेकिन सुरतिया के आगे उन्हें पंजाब के किसानों ने पंजाब में नहीं घुसने से रोकते हुए कहा कि अगर उन्हें अपने गंतव्य स्थान पर जाना है तो वे वाया कालांवाली से डबवाली होकर जाएं। जिसके बाद दोनों ट्रक पंजाब बॉर्डर से वापिस रोड़ी आ गए। इस दौरान सुरतिया व रोड़ी के मध्य किसानों ने दोनों ट्रकों को रूकवा लिया। किसानों ने पूछताछ की तो ट्रक चालकों ने उन्हें कहा कि दोनों ट्रक पंजाब में जाने वाले हैं। लेकिन किसानों को ये आशंका हुई कि ये ट्रक रोड़ी में स्थित शैलरों में उतारे जाएंगे। सूचना पाकर रोड़ी पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस दोनों ट्रकों को थाने में ले आई। वहीं कि सान भी पुलिस के पीछे-पीछे थाने में पहुंच गए और थाने के गेट के बाहर दरी बिछाकर बैठ गए। किसानों का कहना था कि अगर यूपी क्षेत्र का धान यहां आने लगा तो उनका धान ओने-पौने दामों में बिकेगा। इसलिए वे बाहरी धान को रोड़ी की किसी राईस मील में नहीं उतरने देंगे। जिसके बाद पुलिस ने किसानों को आश्वस्त किया कि उक्त ट्रकों को रोड़ी में नहीं उतरने दिया जाएगा। ट्रकों की जहां की बिल्टियां बनी हुई है उन्हें वहीं भिजवाया जाएगा। पुलिस ने दोनों ट्रकों को पंजाब के लिए रवाना कर दिया। जिसके बाद किसान शांत होकर वापिस लौट गए। थाना प्रभारी ईश्वर सिंह ने बताया कि ये मामला पुलिस से संबंधित नहीं था। एतिहात के तौर पर ट्रकों को एक बार थाने में लाया गया था। दोनों ट्रकों को बिल्टियों के अनुसार पंजाब के लिए रवाना कर दिया है।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।