Breaking News

हाईकोर्ट के दखल के बाद साढ़े 44 घंटे के बाद किसान पटरियों से हटे

High Court
  • किसान नेताओं को कहा- किसानों के प्रदर्शन के कारण सप्लाई लाइन प्रभावित हो रही
  • देश सबसे पहले, आपकी डिमांड बाद में, सरकार जवाब दे : हाईकोर्ट
  • किसानों की तरफ से पंजाब सरकार को 24 घंटे में लिखित में मांग पत्र दिया जाएगा।

अमृतसर (एजेंसी) हाईकोर्ट के दखल के बाद देवीदासपुरा में बैठे किसानों ने साढ़े 44 घंटे बाद संघर्ष 29 मार्च तक स्थगित करते हुए रेलवे ट्रैक से धरना उठा लिया। बुधवार को मौखिक टिप्पणी करते मौजूद किसान नेताओं को कहा कि बॉर्डर एरिया में जिस तरह के हालात हैं, उस बीच किसानों के प्रदर्शन के कारण सप्लाई लाइन प्रभावित हो रही है। समझना होगा कि देश पहले है व आपकी डिमांड बाद में है। कोर्ट ने किसान नेताओं से 50 मिनट की काउंसलिंग की। इसके बाद कोर्ट ने कहा कि किसान नेता एक घंटे में ट्रैक से धरना उठाने को तैयार हैं।

यह हुआ फैसला:

किसानों की तरफ से पंजाब सरकार को 24 घंटे में लिखित में मांग पत्र दिया जाएगा। इस पर सरकार कोर्ट में मामले की अगली सुनवाई पर लिखित में जवाब देगी कि कौन सी बातें मान ली गई हैं व कौन से मांगे नहीं मानी गईं। जो मांगें नहीं मानी जा रही है उसके लिए क्या कारण है। 19 मार्च अगली सुनवाई तय की गई है। किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के किसान नेता सतनाम सिंह पन्नू ने धरना 28 मार्च तक स्थगित करने का एलान किया।

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019