Breaking News
   प्रधानमंत्री मोदी ने शरद पवार को दी जन्मदिन की बधाई|    नागरिकता बिल पर बवाल के बीच आज अमित शाह से मिलने दिल्ली आएंगे मेघालय के मुख्यमंत्री |   नागरिकता बिल के खिलाफ ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन भी SC में दाखिल करेगा याचिका |   झारखंड चुनाव: तीसरे चरण में सुबह 9 बजे तक 12.89% मतदान।   असम: नागरिकता बिल के विरोध में बवाल, विस्तारा ने रद्द की कई उड़ानें |
Breaking News

फिरोजपुर : किसानों ने रेलवे ट्रैक जाम कर दिया धरना, कई ट्रैनें रद्द

Protest

मांगों को लेकर अलग-अलग स्थानों पर किसान संघर्ष समिति के नेतृत्व में किए गए रेलवे ट्रैक जाम | Protest

  • मुसाफिरों को करना पड़ा परेशानियों का सामना

फिरोजपुर(सच कहूँ/सतपाल थिन्द)। कृषि मांगों को लेकर एक बार फिर किसानों ने किसान संघर्ष (Protest) समिति के नेतृत्व में पंजाब में अलग -अलग स्थानों पर रेलवे ट्रैकों पर धरने लगा कर रेलों के चक्के जाम कर दिए। किसान, मजदूर और महिलाओं द्वारा रेलवे ट्रैकों पर लगाए गए धरनों को रोकने के लिए पुलिस ने काफी कोशिश भी की परंतु फिर भी रेलवे ट्रैक जाम करने में किसान सफल रहे। बता दें कि कुछ दिन पहले किसान संघर्ष समिति पंजाब के नेताओं की ओर से मीटिंग कर ऐलान किया गया था कि पंजाब के किसानों की आधिकारिक मांगों के अलावा किसानों के दर्ज मामले रद्द करने, किसानों की माफी, बिजली के रेट घटाने और गन्ने की बकाया राशि किसानों को दिलाने के लिए 3 दिसंबर को रेलों के चका जाम किए जाएंगे और अलग-अलग जिलों के प्रशासनिक अधिकारी को ज्ञापन सौंप कर अवगत भी करवाया था।

कोई हल न होता देख मंगलवार को किसान संघर्ष समिति पंजाब के नेतृत्व में किसानों ने पंजाब के स्थानों पर रेलवे ट्रैकों पर बैठ कर रेलवे टैक जाम किया गया, जिससे दर्जनों ट्रेनें प्रभावित हुई। पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते सरकार को चेतावनी देते कहा कि जब तक सरकार उनकी मांगों को पूरा नहीं कर देती, तब तक संघर्ष जारी रहेगा और जरूरत पड़ने पर संघर्ष को और तेज किया जाएगा। शाम के वक्त समाचार लिखे जाने तक किसानों का धरना जारी था और किसान नेताओं ने बताया कि राज्य समिति के साथ सरकार के सदस्यों की बातचीत चल रही है, यदि कोई हल न हुआ यह धरना जारी रहेगा।

पुलिस कर्मियों से किसानों की हुई हाथापाई, लिए हिरासत में | Protest

3 दिसंबर को रेलवे ट्रैक जाम करने के ऐलान पर किसानों को रेलवे ट्रैक जाम करने से रोकने के लिए पुलिस प्रशासन की ओर से कई कोशिशें की गई। जानकारी मुताबिक फिरोजपुर के गांव बुटे वाला के पास फिरोजपुर -जालंधर रेलवे ट्रैक पर धरना लगा कर बैठे किसानों को उठाने आई पुलिस के साथ किसानों को हाथोपाई होना पड़ा। इस के अलावा फिरोजपुर -फाजिल्का रेलवे ट्रैक पर स्टेशन कोहर सिंह वाला के पास धरना लगा कर बैठे किसान नेताओं ने बताया कि धरने में शामिल होने के लिए आ रहे किसानों को रोकने के लिए पुलिस ने कई किसानों को हिरासत में लिया गया, जिनकी तरफ से रेलवे ट्रैक की बजाय थाने में धरना लगा कर प्रदर्शन किया गया। किसान नेताओं ने कहा कि यदि किसानों को न छोड़ा तो किसान समिति की ओर से थाने का घेराव किया जाएगा। इसके अलावा बताया जा रहा है कि कपूरथला और सुलतानपुर जोन के किसान नेताओं को हिरासत में लिया गया है।

कई ट्रेनें हुई रद्द, मुसाफिर करते रहे स्टेशनों पर इंतजार | Protest

  • करीब 11:30 बजे किसानों द्वारा रेलवे ट्रैक जाम कर देने के कारण कई ट्रेनों को बीच में ही रोकना पड़ा।
  • जिस कारण स्टेशनों पर रेलों का इन्तजार कर रहे मुसाफिर इन्तजार कर -कर वापिस लौट गए।
  • रेलवे विभाग से मिली जानकारी मुताबिक फिरोजपुर -फाजिल्का, फिरोजपुर -जालंधर,
    अमृतसर -तरनतारन और अमृतसर – ब्यास ट्रैक पर जाने वाली एक्सप्रैस ट्रेैनों सहित दर्जन भर से अधिक टेनें रद्द हुई।
  • जिस कारण करीब 25 हजार से अधिक मुसाफिरों को परेशानी हुई और रेलवे को काफी घाटा पड़ा।
  • इसके अलावा कई रेलों के मार्ग भी बदले गए।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top