किसानों को 117 करोड़ रुपए के घाटे की संभावना: रामपाल

0

मूंगफली के कुल उत्पादन में से 25% से कम खरीद हुई

जयपुर (सच कहूँ न्यूज)। किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट ने केन्द्र सरकार पर मूल्य समर्थन नीति के तहत प्रधानमंत्री अन्नदाता आय संरक्षण अभियान की मार्गदर्शिका की पालना नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि इससे किसानों को चना एवं मूंगफली की खरीद में 117 करोड़ रुपए के घाटे की संभावना हैं। जाट ने मंगलवार को अपने बयान में कहा कि केन्द्र सरकार के गणितीय भूल को नहीं सुधारने से किसानों को यह घाटा उठाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि मूंगफली के कुल उत्पादन में से 25 प्रतिशत से कम खरीद की मात्रा के निर्धारण के कारण 61 करोड़ 76 लाख 92 हजार रुपए के घाटे की संभावना हैं।

उन्होंने कहा कि 18 नवंबर से मूंगफली की खरीद शुरू होने वाली हैं उसमें केन्द्र सरकार द्वारा 25 प्रतिशत के स्थान पर 20़ 23 प्रतिशत के गलत निधारण के कारण राज्य में सात लाख 72 हजार 115 क्विंटल मूंगफली की कम खरीद होगी। अभी मूंगफली के समर्थन मूल्य 5275 रुपए प्रति क्विंटल हैं जबकि बाजार में प्रचलित मूल्य 4400-4500 रुपए के लगभग हैं। इसके अनुसार एक क्विंटल पर करीब आठ सौ रुपए का घाटा होगा। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में उपचुनाव जीतने के लिए गोपनीय ढंग से 27़1 प्रतिशत चना की खरीद की गई जबकि राजस्थान सहित अन्य राज्यों से 25 प्रतिशत तक भी खरीद नहीं की गई। इससे किसानों में रोष हैं।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।