खेत में गए किसान की मौत

0
Julana
जुलाना। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यवाही करते हुए पुलिसकर्मी।

परिजनों को कोरोना का संदेह, सहमे

जुलाना (सच कहूँ न्यूज)। क्षेत्र के गांव जैजैवंती में एक किसान की मौत खेत में हो गई। अचानक हुई मौत को परिजनों ने कोरोना से हुई मान लिया, जिससे ग्रामीणों में दहशत का माहौल बन गया। इसकी शिकायत जुलाना पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को दी गई। लेकिन 2 घंटे तक पुलिस व स्वास्थ्य विभाग का कोई भी कर्मचारी गांव में नहीं पहुंचा। जिससे ग्रामीणों में प्रशासन के प्रति रोष पनप रहा है। घटना की सूचना गांव के सरपंच को दी गई। गांव के सरपंच ने काफी जद्दोजहद के बाद गांव में एंबुलेंस को बुलाया। सरपंच ने आरोप लगाया कि गांव में कोई भी पुलिसकर्मी नहीं पहुंचा।

जानकारी के अनुसार जैजैवंती गांव निवासी विष्णु (57) अपने खेत में काम करने के लिए वीरवार सुबह गया था। विष्णु अचानक गिर गया। आस पास काम कर रहे किसानों ने इसकी सूचना परिजनों को दी। परिजनों ने उसे लेकर जुलाना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे, जहां पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पाकर जुलाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जींद के सामान्य अस्पताल में भिजवाया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

क्या कहते हैं स्वास्थ्य अधिकारी

कोरोना से कभी अचानक मौत नहीं होती। कोरोना वायरस पॉजीटीव की रिपोर्ट के बाद ही उसे कोरोना घोषित किया जा सकता है। गांव में लोग अफवाह न फैलाएं, जिससे गांव में किसी प्रकार की दहशत ना फैल पाए।
—नरेश वर्मा, एसएमओ जुलाना।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।