फरीदाबाद : एक और महिला डाक्टर की कोरोना से मौत

0
Faridabad Another woman doctor dies from corona

एक सप्ताह में दो डॉक्टरों के निधन पर आईएमए ने जताया शोक (Doctor dies from Corona)

सच कहूँ/राजेन्द्र दहिया फरीदाबाद। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बेकाबू कोरोना संक्रमण ने अब फरीदाबाद को भी अपनी चपेट में लेना शुरू कर दिया है। जिले में जहां पिछले दो दिनों से प्रतिदिन 5-5 मौतें हो रही है। वहीं यहां 600 से ऊपर पॉजिटिव मरीज मिलने से स्वास्थ्य विभाग व प्रशासनिक अधिकारियों की नींदें उड़ गई हैं। फरीदाबाद में एक और महिला (Doctor dies from Corona) डाक्टर की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। इससे पहले भी एक महिला डाक्टर की यहां मौत हो चुकी है। पिछले एक सप्ताह के दौरान दो डाक्टरों की हुई मौत से आईएमए ने गहना शोक जताते हुए सरकार से इन्हें कोरोना योद्धा का सम्मान देने की मांग की है।

आईएमए फरीदाबाद की अध्यक्षा डॉ. पुनीता हसीजा एवं मीडिया प्रभारी तथा वरिष्ठ हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. सुरेश अरोड़ा ने बताया कि कोराना संक्रमण से डॉक्टर संतोष ग्रोवर की मौत हो गई है। डॉ. संतोष ग्रोवर एनआईटी 3 में अपने परिवार के साथ अशोक नर्सिंग होम में प्रैक्टिस करती थी व उनका सभी मरीजों के साथ बेहद स्नेहशील थी। दुर्भाग्यवश उन्हें इसी दौरान मरीजों का इलाज करते हुए कोरोना हो गया और वह इलाज के दौरान स्वर्ग सिधार गई। उन्होंने बताया कि अभी हम 1 सप्ताह पूर्व डॉ. अर्चना भाटिया की के मौत के दुख से उभरे ही नहीं थे कि यह दूसरा झटका डॉक्टर्स को लगा है।

फरीदाबाद में अब तक 4 डॉक्टर कोरोना से लड़ते हुए अपनी जान गंवा चुके हैं

यहां यह बताना भी जरूरी है कि भारत में अब तक 650 से ज्यादा डॉक्टर कोरोना का इलाज करते हुए इसके संक्रमण में आ चुके हैं और अपनी जान गंवा चुके हैं। आईएमए अध्यक्षा डॉक्टर पुनीता हसीजा ने बताया कि फरीदाबाद में अब तक 4 डॉक्टर कोरोना से लड़ते हुए अपनी जान गंवा चुके हैं। इससे पहले डॉ. अर्चना भाटिया, डॉ. रेनू गंभीर व डॉ. आभा सभरवाल की भी मौत हो चुकी है। उन्होंने सभी डाक्टरों को भी अपील की कि वह मरीजों का इलाज करते हुए और भी ज्यादा सावधानी बरतें और अपनी जान का भी ध्यान रखें और मरीजों का भी ख्याल रखें।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।