हिन्दी के प्रसिद्ध लेखक स्वयं प्रकाश का निधन

0
writer Swa Prakash

वह 69 वर्ष के थे और कैंसर से पीड़ित थे (writer Swa Prakash)

मुम्बई (एजेंसी)। हिन्दी के प्रसिद्ध लेखक स्वयं प्रकाश का शनिवार सुबह (writer Swa Prakash) यहां लीलावती अस्पताल में निधन हो गया। वह 69 वर्ष के थे और कैंसर से पीड़ित थे। उनके परिवार में पत्नी के अलावा दो बेटियां हैं। स्वयं प्रकाश का जन्म 20 जनवरी 1947 को इंदौर में हुआ था। वह मूलत राजस्थान के थे। उन्होंने 1969 से लेखन शुरू किया था। वह पेशे से इंजीनियर थे और हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड में काम करते थे।

  • उनकी 20 से अधिक पुस्तकें छपी थी।
  • कहानी के अलावा उन्होंने पांच उपन्यास भी लिखे।
  • उनकी पार्टीशन, नीलकांत का सफर जैसी चर्चित कहानियों ने उन्हें सातवें दशक के महत्वपूर्ण रचनाकार बनाया था।
  • वे काशीनाथ सिंह के समकालीन थे।
  • उनकी बीच में विनय, सूरज कब निकलेगा, र्इंधन उनकी चर्चित कृतियां हैं।
  • उन्हें सुभद्रा कुमारी चौहान पहल सम्मान वनमाली राजस्थान अकादमी का सम्मान भी मिला था।

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।