प्रदेश में नहीं बढ़ेगा उपभोक्ताओं पर बिजली बिलों का बोझ

0
Electricity bill will not increase burden on consumers in the state

ज्यों के त्यों रहेंगे बिजली के रेट

सच कहूँ/अनिल कक्कड़ चंडीगढ़। प्रदेश के बिजली उपभोक्ताओं के लिए राहत की खबर है। हरियाणा इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन ने बिजली के दामों में वृद्धि किए जाने की अफवाहों पर विराम लगाते हुए क्लीयर कर दिया है कि दाम नहीं बढ़ाए जाएंगे। इस बाबत हरियाणा इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन ने बिजली वितरण कंपनियों के एआरआर आर्डर पर अपना फैसला सुनाया है। कमीशन के इस फैसले से प्रदेश के 67 लाख 98 हजार 55 बिजली उपभोक्ताओं को राहत की मिलने की उम्मीद है। बता दें कि अपने फैसले में कमिशन ने उपभोक्ताओं के बिल पर किसी प्रकार का कोई नया बोझ नहीं डाला है, साथ ही साफ कर दिया गया है कि बिजली के दाम ज्यों के त्यों रहेंगे। वहीं एग्रो इंडस्ट्रीज के बिजली उपभोक्ताओं के लिए बिजली सस्ती की गई।

एग्रो इंडस्ट्रीज उपभोक्ताओं को दी राहत

हरियाणा इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन के फैसलों के अनुसार एग्रो इंडस्ट्रीज के बिजली उपभोक्ताओं को पहले 6 रुपए 70 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से बिल देना पड़ता था, अब इन उपभोक्ताओं को 4 रुपए 75 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से बिजली मिलेगी। हरियाणा इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन ने बिजली वितरण कंपनियों के एआरआर आर्डर पर अपना निर्णय सुनाया है। नया टेरिफ एक जून से लागू होगा, जिससे हरियाणा के 67 लाख 98 हजार 55 बिजली उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा। बता दें कि एचईआरसी के चेयरमैन दीपेंद्र सिंह ढेसी, सदस्य प्राविंद्रा सिंह चौहान और सदस्य नरेश सरदाना ने एआरआर आर्डर पर 1 जून को ही साइन कर दिए थे, जिसे सोमवार को जारी किया गया। एआरआर का आर्डर एचईआरसी की वेबसाइट पर भी उपलब्ध है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।