ई-बाइक पूरी दुनिया मेंं ग्रोथ वाला बाजार है : उद्योगपति मुंजाल

0
E-Bike

प्रदेश में निवेश बढ़ाने का प्रयास: मोहाली में दो दिवीय प्रोग्रेसिव इन्वेस्टर्स समिट आयोजित | E-Bike

  • विभिन्न बड़ी कंपनियों ने अपने उत्पादों को किया प्रदर्शनी में उिस्प्ले

मोहाली (सच कहूँ न्यूज)। पंजाब में निवेश को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से मोहाली के इंडियन स्कूल आफ बिजनेस में (E-Bike) आयोजित दो दिन के प्रोग्रेसिव इन्वेस्टर्स समिट का वीरवार को उद्योग मंत्री श्याम सुंदर अरोड़ा ने उद्घाटन कर शुभारंभ किया। समिट में देश विदेश की नामी गिरामी कंपनियां आईटीसी, ट्राइडेंट, सोनालिका, हीरो इलेक्ट्रिक वहीकल प्राइवेट लिमिटेड, क्रेमिका जैसी कंपनियां भाग ले रही हैं। इन्होंने प्रदर्शनी में अपने उत्पादों का डिस्प्ले किया। सम्मेलन को संबोधित करते हुए हीरो साइकिल के चेयरमैन पंकज मुंजाल ने कहा कि आने वाले समय मे ई बाइक देश ही नहीं पूरी दुनिया मेंं ग्रोथ वाला बाजार है। उन्होंने कहा कि आज साइकिल चालकोंं को एक सुरक्षित राह मुहैया करवाने कीजरूरत है। मुंजाल ने कि लाडोवाल में बनने वाले साइकिल वैली में दुनिया की 10 फीसद साइकिल का उत्पादन होगा।

मुंजाल ने कहा कि बाजार में कुछ दिक्कतेंं हैंं, लेकिन संभावनाएं बहुत हैंं। निवेशक सम्मेलन की थीम तेज गति से विकास के लिए रूप-रेखा करना है। दो दिवसीय सम्मेलन में पंजाब के लिए सबसे बड़ी चुनौती निवेशकों को आकर्षित करना व राज्य के एमएसएमई सेक्टर को वैश्विक स्तर पर पहचान देने के लिए प्लेटफॉर्म तैयार करना है। सरकार निवेश को लेकर अपनी सोच को भी धरातल पर लेकर आई है। पहले निवेश सम्मेलनों में एमओयू को तवज्जो दी जाती थी। इस बार सरकार एमओयू साइन नहीं करेगी। एमओयू केवल टेक्निकल सपोर्ट के लिए ही किया जाएगा। पंजाब सरकार अब मल्टी नेशनल कंपनियों को आकर्षित करने के अलावा राज्य की इंडस्ट्री के लिए ‘लिंक को विकसित’ करने पर जोर देगी।

निवेश में कोई कमी नहीं : E-Bike

  • नयापन पंजाब के विकास की कुंजी है और राज्य की अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने के लिए निवेश में कोई कमी नहीं है।
  • यह विचार प्रगतिशील पंजाब निवेशक सम्मेलन के पहले दिन यूके कंट्री सेशन के दौरान मुख्य वक्ताओं ने व्यक्त किए।
  • चर्चा के दौरान कृषि, खाद्य प्रसंस्करण, कपड़ा और परिधान क्षेत्र, मशीन और हस्त उपकरण,
    कृषि-उपकरण निर्माण, आटोमोबाइल, साइकिल के कल-पुर्जे, खेल के सामान,
    लाईट इंजीनियरिंग क्षेत्र, धातु विज्ञान क्षेत्र और नवीकरणीय ऊर्जा जैसे कई क्षेत्रों में
    सहयोग के संभावित अवसरों पर विचार-विमर्श हुआ।
  • अपने शुरूआती संबोधन में पंजाब के अतिरिक्त मुख्य सचिव-सहयोग, कल्पना मित्तल बरुआ ने
    राज्य की औद्योगिक नीति पर प्रकाश डाला।
  • उन्होंने कहा कि यह नीति न केवल पंजाब में उद्योग स्थापित करने के लिए
    सुगम वातावरण प्रदान करने में महत्वपूर्ण साबित हो रही है।
  • इससे राज्य के विकास को भी सहायता मिल रही है।

निवेश का माहौल बनेगा : E-Bike

निवेश पंजाब की अतिरिक्त मुख्य सचिव विनी महाजन कहा कि पंजाब में निवेश समर्थक माहौल बनाने के साथ-साथ भविष्य में हिस्सेदारी के लिए मौके उपलब्ध होंगे। यह सम्मेलन वैश्विक स्तर के औद्योगिक दिग्गजों, उद्योगपतियों और माहिरों को मौजूदा दौर में पैदा हुई औद्योगिक जरूरतों के हल के लिए मंच मुहैया करवा रहा है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।