मरणोपरांत शरीरदान कर डॉ. बलवंत सिंह इन्सां बने महान

0
Dr Balwant Singh Insan, Body Donate, Welfare Works, Dera Sacha Sauda

आदेश मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल मोहरी
शाहबाद (कुरुक्षेत्र) के छात्र करेंगे रिसर्च

सरसा (सुनील वर्मा)। डेरा सच्चा सौदा की शिक्षाओं का अनुसरण करते हुए शाह सतनाम पुरा के ट्रयू कांपलेक्स निवासी प्रेमी डॉ. बलवंत सिंह इन्सां का पार्थिव शरीर परिवार की तरफ से उनकी अंतिम इच्छानुसार आदेश मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल मोहरी शाहबाद, कुरुक्षेत्र को दान कर दिया। मृतक के परिजनों ने बताया कि सचखंडवासी बलवंत सिंह इन्सां ने पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन शिक्षाओं पर चलते हुए जीते जी मरने के बाद शरीरदान करने का लिखित में प्रण लिया हुआ था।

उनकी पार्थिव देह को उनके रिश्तेदारों व डेरा श्रद्धालुओं ने धन-धन सतगुरु तेरा ही आसरा का नारा लगाकर व शरीरदानी बलवंत इन्सां अमर रहे के नारे के साथ बड़े सम्मान पूवर्क विदाई दी। दरअसल ट्रयू कांपलेक्स निवासी 66 वर्षीय डॉ. बलवंत सिंह इन्सां शनिवार को दोपहर बाद करीब 3 बजे इस नश्वर संसार को छोड़कर कुल मालिक के चरणों में सचखंड जा विराजे थे।

सच खंडवासी के पुत्र सचिन ने बताया कि उनके पिता की अंतिम इच्छानुसार रिसर्च हेतू उनका पार्थिव शरीर हरियाणा के आदेश मेडिकल कॉलेज अंबाला को दान कर दी गई। डॉ. बलवंत सिंह इन्सां अपने पीछे पत्नी जसपाल कौर इन्सां व पुत्र सचिन को छोड़ गए है। आपको बता दें कि सचखंडवासी डॉ. बलवंत सिंह इन्सां मूल रुप से पंजाब के जिला मोगा के रहने वाले है और वे 2009 से शाह सतनाम जी पुरा स्थित ट्रयू कांपलेक्स में रहे रहे थे।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।