पंजाब

बसंत पंचमी पर चाइना डोर का किसी भी कीमत पर न हो इस्तेमाल : मिड्ढा

Not Use China Door, Basant Panchami, Middha, Punjab

बसंत पंचमी मौके मलोट की पतंग बेचने वाली दुकानों पर लगी रौणकें, युवाओं में बढ़ा उत्साह

मलोट(मनोज)। बसंत पंचमी का त्योहार जहां पूरे भारत में मनाया जाने वाला पुरातन त्योहार है वहीं मलोट क्षेत्र में भी यह त्योहार धूमधाम के साथ मनाया जाता है। बसंत पंचमी मौके यह वाक्य भी मशहूर है कि ‘आई बसंत पाला उडंत’ भाव बसंत पंचमी के बाद मौसम खुशनुमा हो जाता है और इस त्योहार के बाद फसलों भी महकने लग जाती हैं। यह त्योहार माघ माह में मनाया जाता है और इस दिन लोग पीले कपड़े पहन कर घर में मिठाईयां भी बनाते हैं और कुछ लोग पतंगबाजी करके इस त्योहार की खुशी मनाते हैं। कुछ इस तरह ही मलोट के बाजारों में पतंगों बेचने वाली दुकानों पर देखने को मिला।

डोरेमोन व छोटा भीम के अलावा और भी कार्टूनों वाले पतंग बच्चों की बने पहली पसंद

पतंग बेचने वाली दुकानों और खासकर बच्चे पतंग व डोर खरीदते हुए नजर आए। इस मौके मंडी हरजी राम में पतंग बेचने वाले दुकानदार राजेश कुमार और आशु कुमार ने बताया कि इस बार बसंत पंचमी मौके पतंग उड़ाने वाले युवाओं में खास उत्साह नजर आ रहा है और बच्चे, युवा और हर उम्र के लोग पतंग और डोर खरीदने के लिए आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि जयपुरी पतंग के अलावा हर तरह के डिजायनों के पतंग लोग खरीद रहे हैं और इसके अलावा डोरेमेन व छोटा भीम के अलावा कई तरह के कार्टूनों वाले पतंग बच्चों की पहली पसंद बने हुए हैं।

आजाद सेवा सोसायटी के अध्यक्ष कृष्ण मिड्ढा नाक ने कहा कि चाइना डोर पर पाबंदी होने के बावजूद भी यदि आपको बाजार में मिल रही है तो उसको किसी भी कीमत में न इस्तेमाल की जाये, बल्कि इस की सूचना प्रशासन को देनी चाहिए, जिससे हम किसी ओर की भी जान बचा सकें। उन्होंने कहा कि बसंत पंचमी का त्योहार बढ़िया ढंग के साथ मनाना चाहिए और पूरी सावधानी ईस्तेमाल करते हुए खुले ग्राउंड में ही पंतगबाजी करनी चाहिए, वह भी एक साधारण डोर के साथ ताकि न अपना और न किसी अन्य का नुक्सान हो। उन्होंने कहा कि साधारण डोर बरतने से पक्षियों का भी बचाव हो जाता है जबकि चाईना डोर के साथ पक्षियों का भी नुक्सान होता है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top