Breaking News

मध्यप्रदेश: दिग्विजय सिंह ने संघ पर साधा निशाना; कहा- अगर संघ को शहीद भी पसंद नहीं तो वो शैतान

digvijay singh

बोले- जो संघ की मर्जी के खिलाफ बोले वो देशद्रोही है, हमने भारत की नींव रखी तो संघ के श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भी सम्मानपूर्वक शामिल किया

भोपाल भोपाल सीट के कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने संघ पर निशाना साधा है। मंगलवार को उन्होंने कहा कि जो संघ की मर्जी के खिलाफ (digvijay singh) बोले वो देशद्रोही है। भारत के शहीद भी अगर संघ को पसंद नहीं तो वो शैतान हैं। मंगलवार को ट्वीट कर दिग्विजय सिंह ने कहा, “शहीद हेमंत करकरे के विरुद्ध संघ के लोगों के बयान से साफ है कि उनके लिए भारत ‘माता’ नहीं, संघ ही सब कुछ है। जो संघ की मर्जी के खिलाफ बोले वो देशद्रोही है।

भारत के शहीद भी अगर संघ को पसंद नहीं तो वो शैतान हैं। हमने संघ की नहीं, संविधान की शपथ ली है। हम भारत माता के (digvijay singh) भक्त हैं। हमने श्यामाप्रसाद मुखर्जी को सम्मान दिया : दिग्विजय सिंह ने पूछा, “नेहरु जी ने नए राष्ट्र के रूप में भारत की नींव रखी। उसमें संघ के श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भी सम्मानपूर्वक शामिल किया, सबको साथ लिया। आप जो राष्ट्र बना रहे हैं, उसमें शहीदों तक का सम्मान नहीं। महात्मा गांधी, इंदिरा जी, राजीव जी से हेमंत करकरे तक सब आपके लिए बस राजनीति है? क्यों?”

कांग्रेस के लोगों की कुर्बानियां शामिल हैं : दिग्विजय सिंह ने कहा, “भारत आज एक मजबूत राष्ट्र है। जिसमें संघ की नहीं, कांग्रेस के लोगों के कुर्बानियां शामिल हैं। महात्मा गांधी, इंदिरा जी, राजीव जी के बलिदान हैं, छत्तीसगढ़, कश्मीर, पंजाब, असम, मणिपुर, त्रिपुरा।

देश की मिट्टी में कांग्रेस का खून मिला हुआ है। उस खून की खुशबू संघ को नहीं आती।’ भाजपा भले मानती हो, जब जागो तभी सवेरा : दिग्विजय सिंह ने कहा, “भाजपा के लोग भले मानते हों कि जब जागे तभी सवेरा, लेकिन भारत का सूर्य आपसे बहुत पहले उदय हो चुका था. आजादी के बाद मजबूत भारत बनाने में देशवासियों की मेहनत, सैनिकों/ पुलिसकर्मियों के बलिदान, संविधान की ताकत, कांग्रेस की नीतियां शामिल हैं. राष्ट्र निर्माण यज्ञ है, निजी चमत्कार नहीं।”

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019