मजबूरीवश देह व्यापार में फंसी 200 महिलाओं को डेरा सच्चा सौदा अनुयायियों ने दिया राशन

0
Dera Sacha Sauda followers rationed 200 women trapped in forced body trade

भिवानी जिला प्रशासन ने मांगी थी राहत के लिए मदद (Rationed 200 Women)

  • उपायुक्त जयबीर सिंह ने राहत राशि के कैंटर को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

सच कहूँ/इन्द्रवेश भिवानी। मजबूरीवश देह व्यापार जैसे घिनौने धंधे में फंसी महिलाओं के सामने कोविड महामारी के चलते खाद्य सामग्री के लाले पड़ गए। ऐसे में इनकी मदद के लिए आगे आए डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी। भिवानी जिला प्रशासन के सहयोग से डेरा सच्चा सौदा की शाह सतनाम ग्रीन एस वेलफेयर फोर्स ने 200 परिवारों (Rationed 200 Women) को सूखा राशन देकर उनकी मदद की। इस राशन सामग्री से भरे कैंटर को भिवानी के उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया, जिसे रैडक्रॉस के माध्यम से इन महिलाओं तक पहुंचाया जाएगा।

भिवानी ग्रीन एस वेलफेयर फोर्स ने इसका जिम्मा उठाया

भिवानी जिले के जिम्मेवार घनश्याम इन्सां व सेवादार राजू इन्सां ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला प्रशासन द्वारा देह व्यापार के धंधे में फंसी महिलाओं को राशन पहुंचाने के लिए संपर्क किया गया था। जिसके बाद भिवानी ग्रीन एस वेलफेयर फोर्स ने इसका जिम्मा उठाते हुए 200 परिवारों को आटा, चावल, दाल, चीनी, हल्दी, नमक, मिर्च से बनी किट तैयार करवाकर रैडक्रॉस भिवानी को सौंप दी हैं। प्रत्येक किट पर लगभग 750 रुपए का खर्च आया है तथा लगभग डेढ़ लाख रुपए की लागत से 200 राशन किट तैयार की गई हैं।

उपायुक्त भिवानी ने हरी झंडी दिखाकर राहत राशन सामग्री के कैंटर को रवाना किया। उन्होंने बताया कि पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणाओं पर चलते हुए डेरा सच्चा सौदा की शाह सतनाम ग्रीन एस वेल्फेयर फोर्स विंग 134 मानवता भलाई के कार्य कर रही है। जिला प्रशासन ने डेरा अनुयायियों से 198 परिवारों तक राहत सामग्री पहुंचने का आग्रह किया तो उन्होंने 200 परिवारों की राहत सामग्री की किट प्रशासन को सौंप दी है, ताकि कोई भी सैक्स वर्कर, जो मजबूरीवश इस घिनौने धंधे में फंसी हैं, वे भूखी न रहें तथा भविष्य में भी उनकी संस्था इस प्रकार के पुनीत तथा भलाई के कार्य करती रहेगी। वहीं प्रशासन द्वारा यह राशन किटें जरूरतमंद महिलाओं तक पहुंचाई गई।

इस मौके पर डेरा सच्चा सौदा भिवानी के जिम्मेवार घनश्याम इन्सां, राजेंद्र इन्सां, ब्रह्मदत्त इन्सां, रामेश्वर इन्सां, सुभाष सिवानी, सतपाल इन्सां, सोमबीर, मुंशी राम, राजू मिस्त्री, राजकुमार, अमित, बहन विनीता, पुष्पा, बिमला, राजबाला सहित ग्रीन एस वेलफेयर फोर्स के जिम्मेवार मौजूद रहे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।