पटियाला : डेरा सच्चा सौदा अनुयायियों ने किया 502 यूनिट रक्तदान

0
blood-donation

साध-संगत के ज़ज्बे के आगे ब्लड बैंकों ने हाथ किए खड़े, बड़ी संख्या में रक्तदान के इच्छुक बिना रक्तदान किए निराश लौटे | Blood Donation

पटियाला(सच कहूँ/खुशवीर सिंह तूर)। डेरा सच्चा सौदा की दूसरी पातशाही पूजनीय परम पिता शाह सतनाम सिंह जी महाराज के पवित्र अवतार माह को समर्पित जिला पटियाला की साध-संगत की ओर से जहां नामचर्चा घर पटियाला में जिला स्तरीय नाम चर्चा आयोजित की गई, वहीं (Blood Donation) विशाल रक्तदान कैंप भी लगाया गया।

रक्तदान कैंप में सरकारी राजिन्द्रा अस्पताल पटियाला की ब्लड बैंक और लाईफ लाईन ब्लड बैंक की टीम की ओर से रक्त एकत्रित किया गया। ब्लड बैंकों की ओर से 502 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया और ब्लड बैंकों ने रक्त यूनिट का जो लक्ष्य तय किया था, वह कुछ ही समय में पूरा हो गया। राजिन्द्रा अस्पताल पटियाला की ब्लड बैंक की ओर से 421 यूनिट जबकि लाईफ लाईन ब्लड बैंक की ओर से 81 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया।

रक्तदानियों में दिखाई दिया भारी उत्साह | Blood Donation

Blood-Donate

रक्तदान बैंक ब्लड बैंक राजिन्द्रा अस्पताल की अपील पर लगाया गया था। इस अपील पर जिला पटियाला की साध-संगत की ओर से यह विशाल रक्तदान कैंप लगाया गया। सुबह 10 बजे से शुरू हुए रक्तदान कैंप के लिए रक्तदाताओं की लम्बी लाईनें लगनी शुरू हो गई थी। आलम यह रहा कि युवाओं, प्रौढ़ व्यक्तियों में रक्तदान के लिए जबरदस्त उत्साह देखा गया, जिसे देख डॉक्टर भी हैरान थे। दोपहर 2बजे तक डॉक्टरों ने अपना लक्ष्य पूरा कर लिया, जबकि रक्तदानियों में रक्तदान के लिए उत्साह बरकरार था। वह डॉक्टरों को अपना रक्त लेने की विनतियां कर रहे थे। ब्लड बैंकों की ओर से अपना कोटा पूरा करने के बाद रक्त लेने के लिए मना कर दिया गया। इस मौके लगभग 1 हजार से अधिक रक्तदानी बिना रक्तदान किए निराश मन के साथ अपने घरों को लौट गए।

45 मैंबर हरमिन्द्र नोना ने बताया कि यदि आज एक हजार से अधिक यूनिट की जरूरत होती तो संगत वह भी पूरा कर देती। उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में सेवादार बिना रक्त दिए ही वापस लौट गए। उन्होंने बताया कि आज हजारों की संख्या में पहुंची साध-संगत ने मानवता भलाई के कार्यों को ओर बढ़चढ़ कर करने का प्रण भी लिया।

डेरा श्रद्धालुओं का सेवा प्रति जज्बा काबिलेतारीफ : डॉ. रजनी, डॉ. रमनीक

  • राजिन्द्रा अस्पताल ब्लड बैक के डॉक्टरों में डॉ. रजनी और डॉ. रमनीक कौर ने कहा
    यह कैंप बहुत अनुशासन और रक्तदाताओं के साथ शान शौकत से पूरा हुआ।
  • वह और भी कैंपों में रक्त एकत्रित करने के लिए जाते हैं। जो सेवा भावना
    डेरा सच्चा सौदा के सेवादारों में है, वह कहीं भी नहीं।
  • यह एकत्रित किया रक्तदान थैलासीमियों के मरीजों, एक्सीडेंट केस और
    एमरजैंसी के मामलों में उन की जिंदगी का रक्षक साबित होगा।
  • लाईफ लाईन ब्लड बैंक के डॉ. रिपजीत वालिया व डॉ. सुरेश कुमार का कहना था
    वह साध-संगत के मानवता भलाई के कार्यों से बहुत प्रभावित हैं।
  • हम अक्सर देखते हैं कि जब इमरजैंसी में रक्त की जरूरत होती है।
  • डेरा सच्चा सौदा के सेवादार रक्तदान के लिए पूरे उत्साह के साथ पहुँचते हैं।
  • उन्होंने कहा कि ऐसा जज्बा हर किसी में नहीं होता।
  • डेरा सच्चा सौदा के पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां जी का धन्यवाद करते कहा कि उनकी तरफ से दी गई मानवता भलाई की शिक्षाओं के कारण ही यह सेवादार पूरे दिल से सेवा कर रहे हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।