फटाफट न्यूज़
   दिल्ली: निर्भया के दोषियों को आज जारी हो सकता है नया डेथ वारंट l   महिला अधिकारियों को सेना में मिलेगा स्थाई कमीशन, सुप्रीम कोर्ट ने HC के फैसले पर लगाई मुहर l   नारनौंद-उचाना मार्ग पर दर्दनाक हादसा, खड़े ट्रक से टकराई इको, 6 की मौत, 6 घायल l   मूडीज ने 2020 में भारत के जीडीपी ग्रोथ अनुमान को 6.6% से घटाकर 5.4% किया l   AGR मसला: एयरटेल ने 10,000 करोड़ रुपये का बकाया जमा किया l
हरियाणा

Humanity : ठंड से ठिठुर रहे परिवारों का सहारा बनी रामनगर की साध-संगत

डेरा सच्चा सौदा से जुड़ी ब्लॉक रामनगर की साध-संगत हमेशा मानवता भलाई कार्यों में अग्रणी रहती है। बात खूनदान की हो, पौधारोपण या शरीरदान की, ये सेवादार इंसानियत की सेवा के लिए पलभर में पहुंच जाते हैं।

स्लम बस्ती में जरूरतमंद 150 परिवारों को वितरित किए गर्म कंबल व कपड़े | Humanity

सच कहूँ/विजय शर्मा

करनाल। डेरा सच्चा सौदा से जुड़ी ब्लॉक रामनगर की साध-संगत हमेशा मानवता (Humanity) भलाई कार्यों में अग्रणी रहती है। बात खूनदान की हो, पौधारोपण, सफाई अभियान, राशन वितरण या शरीरदान की, ये सेवादार इंसानियत की सेवा के लिए पलभर में पहुंच जाते हैं। एक बार फिर राम नगर के सेवादारों ने हाड़कंपा देने वाली ठंड से ठिठुर रहे गरीब परिवारों के 150 सदस्यों को गर्म कपड़े, कंबल, जर्सियां वितरित कर मानवता भलाई का परिचय दिया है। रामनगर ब्लॉक के भंगीदास दीपक इन्सां ने जानकारी देते हुए बताया कि पूज्य परम पिता शाह सतनाम जी महाराज के पावन अवतार माह की खुशी के उपलक्ष्य में साध-संगत ने अपनी नेक कमाई से आर्थिक सहयोग करते हुए स्लम बस्ती में रहने वाले जरूरतमंद परिवारों को ठंड से बचाने के लिए गर्म कंपड़े व कंबल दिए गए हैं।

 

पूज्य गुरु जी से मिली मानवता भलाई की शिक्षा: दीपक |Humanity

दीपक इन्सां ने बताया कि उन्हें यह शिक्षा डेरा सच्चा सौदा के पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां से मिली है। जिन्होंने हमेशा इंसानियत के लिए जीना सिखाया है। इस मौके पर मोनू इन्सां, हैप्पी इन्सां, रिंकू इन्सां, मयंक इन्सां, मुकेश इन्सां, मनन इन्सां, दीपू इन्सां, सुनीता इन्सां, वीना इन्सां, जागृति इन्सां, मोनिका इन्सां, सानिया इन्सां, आरती इन्सां, निष्ठा इन्सां, रश्मी इन्सां सहित अन्य सेवादार मौजूद रहे।

गर्म कंबल मिले तो परिवारों ने जताया आभार | Humanity

  • रामनगर की साध-सगत द्वारा जैसे ही परिवारों को गर्म कपड़े दिए गए तो लोग डेरा अनुयायियों को दुआएं देने लगे।
  • ठंड से ठिठुर रहे छोटे-छोटे बच्चों को भी जब तग ढ़कने के लिए कपड़ा मिला तो खुशी से मुस्कुरा उठे।
  • उन्हें नहीं पता ये कौन है बस उनकी आंखों में डेरा अनुयायियों के लिए एक अपनापन देखने को जरूर मिल रहा था।
  •  डेरा अनुयायी भी उन्हें खुश देकर अपने मुर्शिद का आभार जता रहे थे । 
  • जिनकी बदौलत आज वे मानवता व इंसानियत के काम आ रहे हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top