Humanity : रक्तदान कर जीवन बचा रहे चंडीगढ़ के डेरा अनुयायी

0
Blood-Donation

पूज्य गुरु जी की प्रेरणा : पंजाब, हरियाणा, हिमाचल, यूपी, उत्तराखंड व कश्मीर से आए मरीजों को मिले मददगार

(MSG True Blood Pump)

  • हर सप्ताह होता है दर्जनों यूनिट रक्तदान

  • जरूरतमंदों को लगातार रक्त दे रहे ट्रयू ब्लॅड पंप

चंडीगढ़ (अनिल कक्कड़/राजेश कुमार)। डेरा सच्चा सौदा के सेवादार इंसानियत के कार्यां के लिए पूरी दुनिया में जाने जाते हैं। रक्तदान का क्षेत्र हो, नेत्रदान की बात या शरीर दान की, हर जगह डेरा सच्चा सौदा के सेवादार अग्रिम पंक्ति में नजर आते हैं। पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणा का अनुसरण करते हुए चंडीगढ़ के एमएसजी ट्रयू ब्लॅड पंप के सेवादार पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल, यूपी, उत्तराखंड, कश्मीर एवं दूर-दराज से आए जरूरतमंदों मरीजों के लिए लगातार रक्तदान कर रहे हैं। इसी क्रम में पिछले दिनों में अलग-अलग मरीजों के लिए दर्जन भर यूनिट रक्तदान किया गया।

मिली जानकारी के अनुसार स्थानीय निवासी अमनदीप सिंह इन्सां ने शाहकोट (लुधियाना) निवासी एक मरीज को पीजीआई चंडीगढ़ में ओ पॉजीटिव रक्तदान किया। (MSG True Blood Pump) वहीं विशाल इन्सां ने बठिंडा निवासी एक मरीज के लिए पीजीआई चंडीगढ़ में ओ पॉजीटिव प्लेटलैट्स डोनेट किए। इसी के साथ सुरेश इन्सां, अजय इन्सां, मनसां राम इन्सां ने एक-एक यूनिट रक्तदान जरूरतमंद मरीजों के लिए डोनेट किया।

वहीं एमएसजी ट्रयू ब्लॅड पंप द्वारा दो यूनिट रक्त जगाधरी से पीजीआई में दाखिल एक मरीज के इलाज के लिए मुहैया करवाया। इसके अलावा प्रेमी संदीप इन्सां ने यमुनानगर से एक मरीज के लिए ओ नैगेटिव रक्तदान किया। इसी के साथ प्रेमी पिंटू बग्गा इन्सां ने असंध (करनाल) से पीजीआई आए एक मरीज के लिए बी पॉजीटिव रक्तदान किया। प्रेमी संदीप महेंद्रू इन्सां ने सिरमौर, हिमाचल प्रदेश से आए एक मरीज के लिए चंडीगढ़ पीजीआई में ओ नैगेटिव रक्तदान कर उसके इलाज में मदद की। वहीं फरीदकोट, पंजाब से एक मरीज के लिए एमएसजी ट्रयू ब्लॅड पंप ने पीजीआई में दो यूनिट रक्तदान मुहैया करवाया।

पूज्य गुरु जी की प्रेरणा से ही हुआ संभव

रक्तदानियों ने एक सुर में कहा कि दूसरों की मदद का यह ज़ज्बा पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणा से प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि यदि पूज्य गुरु जी के सान्निध्य में नहीं होते तो शायद ही ऐसे नेक कार्य कर रहे होते।

मरीजों के परिजन बोले-डेरा अनुयायी को ज़ज्बा बेमिसाल

वहीं रक्त प्राप्त करने वाले मरीज और उनके परिजनों ने हर रक्तदानियों का तहेदिल से धन्यवाद किया और कहा कि इस तरह अजनबी लोगों के लिए मदद को आगे आना काबिले तारीफ है। रक्तदानी परिवारों ने पूज्य गुरू जी का धन्यवाद किया, जिनकी प्रेरणा से ये लोग आज इंसानियत की भलाई के कार्यों में लगे हुए हैं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।