थैलेसीमिया पीड़ित मरीजों के लिए डेरा श्रद्धालुओं ने किया 166 यूनिट रक्तदान

0
Blood-Donation-2

सराहनीय प्रयास। सेवादारों ने जालंधर के सिविल अस्पताल के ब्लड बैंक में 112 यूनिट व ओहरी अस्पताल में 54 यूनिट किया रक्तदान

  • डेरा सच्चा सौदा थैलेसीमिया पीड़ित के मरीजों के लिए हो रहा वरदान साबित : बीटीओ

  • डेरा सच्चा सौदा हमेशा ही रक्तदान करने के लिए तैयार : डॉ. सोनिया

जालंधर(सच कहूँ न्यूज)। डेरा सच्चा सौदा की ओर से देश विदेश में थैलेसीमिया और कैंसर पीड़ित मरीजों के लिए लगातार रक्तदान किया जा रहा है। इसी संबंध में जालंधर के 2 ब्लड बैंकों सिविल अस्पताल व ओहरी अस्पताल के ब्लड बैंक में डॉक्टरों की मांग पर लगातार 5 दिन जिलों जालंधर के ब्लॉक जालंधर, ब्लाक मुकन्दपुर, ब्लाक अपरा, ब्लाक नूरमहल की शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैलफेयर फोर्स विंग के सेवादारों की ओर से एक मुस्कान के अंतर्गत बड़े स्तर पर रक्तदान किया गया है। आज इसकी जानकारी देते डेरा सच्चा सौदा के जिम्मेवारों ने बताया कि डेरा सच्चा सौदा हमेशा ही मानवता भलाई कार्य के लिए तैयार रहता है और जहां भी किसी जरूरतमन्द को रक्त की जरूरत होती है वहां साध-संगत रक्तदान कर इंसानियत का फर्ज निभाती है।

Blood-Donation

सच्चा सौदा की सेवादार रक्तदान करने के साथ इन मरीजों को बहुत बड़ी राहत मिलेगी

उन्होंने बताया कि इन ब्लड बैंकों ने डेरा सच्चा सौदा को लिखित में रक्तदान की मांग की थी, जिसके तहत आज सेवादारों ने जालंधर के सिविल अस्पताल के ब्लड बैंक में 112 यूनिट रक्तदान किया। आज सिविल अस्पताल के बीटीओ डॉक्टर गगनदीप सिंह ने ब्लड कैंप में पहुंच कर डेरा सच्चा सौदा का धन्यवाद करते कहा कि लॉकडाऊन के चलते कोरोना महामारी के कारण लोगों में रक्तदान करने का उत्साह कम हो गया था, जिस कारण अस्पताल में आने वाले थैलेसीमिया और कैंसर के मरीजों के अलावा अन्य जरूरतमन्द मरीजों को बहुत मुश्किल का सामना करना पड़ रहा था परंतु डेरा सच्चा सौदा की सेवादार रक्तदान करने के साथ इन मरीजों को बहुत बड़ी राहत मिलेगी।

Blood-Donation-1

श्रद्धालु हर समय पर रक्तदान करन के लिए हमेशा तैयार रहते : ब्लड बैंक के कर्मचारी रणजीत

आज सिविल अस्पताल ब्लड बैंक के कर्मचारी रणजीत कौर ने भी डेरा सच्चा सौदा का धन्यवाद करते कहा कि डेरा श्रद्धालु हर समय पर रक्तदान करन के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। उन्होंने बताया कि हमारे पास थैलेसीमिया और कैंसर के मरीज जिनको कि लगातार रक्त की जरूरत पड़ती है आ रहे हैं परंतु कोरोना महामारी के कारण लोगों में सहम का माहौल होने के कारण इस समय बहुत ही कम स्वैच्छिक रक्तदान किया जा रहा है, परन्तु डेरा सच्चा सौदा उन मरीजों के लिए वरदान साबित हो रहा है।

इससे पहले भी लॉकडाऊन के चलते डेरा सच्चा सौदा की ओर से सिविल अस्पताल में जरूरत पड़ने पर यह सेवादार आधी रात को भी रक्तदान करने आ जाते हैं। इसी तरह आज जालंधर के ओहरी अस्पताल में सेवादारों की ओर से 54 यूनिट रक्तदान किया गया, जिस पर ओहरी अस्पताल के डॉक्टर सोनिया ने कहा कि हम डेरा सच्चा सौदा का बहुत ही धन्यवाद करते हैं क्योंकि इस कोरोना महामारी के कारण ब्लड बैंक में रक्त की बहुत कमी थी जो इन सेवादारों ने पूरी की है।

यही नहीं यह सेवादार जरूरत पड़ने पर हर रोज अपना रक्तदान करने के लिए ब्लड बैंक में आते रहते हैं। इस मौके पर 45 मैंबर देश राज इन्सां, ब्लड समिति के जिम्मेवार गुरप्रीत शैंटी इन्सां और शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैल्फेयर फोर्स विंग के सेवादार लक्की इन्सां, सोनू इन्सां, हरबिलास गागी इन्सां, बब्बलू इन्सां, हैपी इन्सां, भुपिन्दर इन्सां, गोपाल इन्सां, दिवेश इन्सां एडवोकेट राज कुमार के अलावा अन्य सेवादार उपस्थित थे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।