Breaking News

डेरा श्रद्धालुओं ने जरूरतमंद परिवार को बनाकर दिया आशियाना

Dera devotees set up a needy family
  • भोला सिंह के परिवार को बरसात -आंधी के डर से मिला छुटकारा

  • ब्लॉक पक्खों कलां की साध-संगत ने ‘आशियाना’ मुहिम के अंतर्गत बीते तीन महीनों में गांव तीन जरूरतमंद परिवारों को बनाकर दिए मकान

  • रपरिवार ने पूज्य गुरू जी व डेरा श्रद्धालुओं का तहदिल से किया धन्यवाद

बरनाला/तपा मंडी(सुरिन्दर मित्तल/गुरमेल सिंह)। ब्लॉक तपा-भदौड़ की साध-संगत ने डेरा सच्चा सौदा की शिक्षाओं पर चलते ‘आशियाना’ मुहिम के अंतर्गत शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैलफेयर फोर्स विंग के नेतृत्व में गांव पक्खों कलां में एक जरूरतमंद को पड़ रही भयानक गर्मी के बावयूद कुछ घंटों में ही मकान बनाकर दिया गया, जिससे परिवार का बरसात-आंधी का सताने वाला डर सदा के लिए खत्म हो गया।

जानकारी देते ब्लॉक भंगीदास अशोक कुमार, राकेश बबली, बग्गा सिंह इन्सां, जगदीश सिंह इन्सां, नछत्तर सिंह इन्सां, भंगीदास राजविन्दर इन्सां, डॉक्टर जसवीर इन्सां, अमरदीप इन्सां, आदि ने जानकारी देते बताया कि भोला सिंह पुत्र बंता सिंह मानां पत्ती की आर्थिक हालत कमजोर होने के कारण वह अपना मकान बनाने में असमर्थ है और अपना गुजारा भी बहुत ही मुश्किल से चल रहा है, जिसने डेरा सच्चा सौदा के जिम्मेवारों के पास मकान बनाने के लिए अपील की, जिस पर विचार करने उपरांत पीड़ित परिवार को दो कमरे, शौचालय, चारदीवारी, गेट आदि बनाकर और रंग कर दिया गया है।

उन्होंने बताया कि ‘आशियाना’ मुहिम के अंतर्गत बीते तीन महीनों में ही गांव पक्खो कलां की साध-संगत की ओर से तीन जरूरतमंद परिवारों को मकान बना दिए गए हैं। इस मकान के सेवा कार्य में मिस्त्री गुरमेल ढिल्लवां के नेतृत्व में 14 मिस्त्री, निर्भय सिंह, गुरमेल के नेतृत्व में 12 पेंटर, और ब्लॉक के अलग गांवों के करीब 240 सेवादारों ने सहयोग दिया।

  • पूज्य गुरू जी की शिक्षा महान : भोला सिंह

कुछ घंटों में ही बने अपने मकान को देख कर भोला सिंह और उसका परिवार पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां जी का व डेरा श्रद्धालुओं का बार बार धन्यवाद कर रहा था। उक्त परिवार का कहना था कि पूज्य गुरू जी की शिक्षा महान है, जिसके अंतर्गत डेरा श्रद्धालु बिना किसी स्वार्थ के जरूरतमंदों की हर संभव मदद के लिए पहुंचते हैं। तपती गर्मी में जहां लोग अपने काम को रोक लेते हैं, वहीं डेरा श्रद्धालु बिना रूके उनके मकान बनाने के महान कार्य में जुटे रहे। ‘धन्य हैं ऐसे प्रेमी और धन्य हैं इनके पूज्य गुरू जी’।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top