पंजाब

दो हजार की आबादी वाला गांव पत्ती खलील बुनियादी सुविधाओं से वंचित

Deprived village of facilities  Patti Khalil

दूषित पानी गलियों में जमा होने से लोगों में फेल रहा बीमारियां फैलने का खतरा

संगरूर/शेरपुर(रवी गुरमा)। कस्बा शेरपुर में स्थित गांव पत्ती खलील चाहे 2000 आबादी वाला एक अलग गांव है और यहां की अलग ही अपनी पंचायत चुनी जाती है और पत्ती खलील को अलग से ही सरकारी अनुदान राशि मिलती है परंतु फिर भी इसकी स्थिति बहुत गंभीर बनी हुई है क्योंकि इसकी तरफ अभी तक किसी भी सरकार ने ध्यान नहीं दिया है। यदि इस गांव की गुरू नानक कालोनी की तरफ देखें तो यहां रह रहे लोग अनेकों समस्याओं के साथ जूझ रहे हैं। समस्याएं इस तरह की हैं जिनके साथ लोग जलील हो रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि इस गांव के पास अपनी, प्राथमिक सुविधाओं जिनमें शिक्षा, स्वास्थ्य सुविधाएं, पीने वाला पानी आदि किसी भी तरह की कोई सुविधा नहीं है। इसे कस्बा शेरपुर के साथ जोड़ कर ही समय पास किया जा रहा है परंतु अब देखना यह होगा कि पिछले 65 -70 सालों से समस्याओं के साथ जूझ रही पत्ती खलील को नयी बनी पंचायत समस्याओं से छुटकारा दिला सकेगी या नहीं या फिर अपने पांच साल का कार्यकाल केवल खानापूर्ती तक ही सीमित रखेगी।  पत्ती खलील में रहने वाले लोगों को अपनी, प्राथमिक सुविधाआें के अलावा भी अनेकों अन्य समस्याओं के साथ जूझना पड़ रहा है।

पंचायत घर की इमारत की कमी

चाहे गांव पत्ती खलील को एक गांव का दर्जा प्राप्त है और वहीं से अपनी पंचायत चुनी जाती है परंतु हैरानीजनक बात यह है कि इस पंचायत को बैठने के लिए कोई भी पंचायत घर की इमारत नहीं है जहां बैठ कर पंचायत लोगों की समस्याओं का हल किया जा सके। गांव पत्ती खलील की गुरू नानक कालोनी में आतीं गलियों में निकासी पानी ओवरफ्लो होकर गलियों में जोहड़ का रूप धारण कर ठहरता है। जहां से लोगों को पैदल गुजरना तो दूर की बात अपने वाहनों पर गुजरना भी मुश्किल है। पानी इतनी मात्रा में ठहरता है कि वहां बीमारियां फैलने का खदसा भी बना हुआ है।

कॉलोनी के हर गली मोड़ पर है बिजली मीटरों के बड़े बक्से

गांव पत्ती खलील की गुरू नानक कालोनी अधीन आतीं सभी गलियों में मीटर वाले बड़े बक्से हर गली मोड़ पर लगे हुए हैं जिस कारण इन गलियों में वाहन लेजाना अति मुश्किल है। दूसरा कारण यह बक्से बारिश के दिनों में किसी समय भी बड़े हादसो का कारण बन सकते हैं क्योंकि इन बक्सों में बिजली की तारों बिल्कुल नीची हैं।

गांव पत्ती खलील अधीन आता पानी वाला जोहड़ भी ओवरफ्लो हो चुका है जिस कारण निकासी पानी जोहड़ में जाने की बजाय उल्टा लोगों के घरों की तरफ आ रहा है जिस कारण लोगों का निकासी पानी गलियों में ही खड़ा है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top