स्कॉलरशिप मामले की सीबीआई जांच हो, बैंस हिरासत में

0
Post Metric Scholarship Scam

पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप घोटाला मामला: लोक इंसाफ पाटी ने किया प्रदर्शन (Post Metric Scholarship Scam)

  •  पुलिस ने प्रदर्शन को लम्मा पिंड चौक पर ही निपटाने के लिए कहा था

जालंधर (सच कहूँ न्यूज)।  जालंधर में गुरुवार को पुलिस ने लोक इंसाफ पार्टी के प्रमुख सिमरजीत सिंह बैंस को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। मामला प्रदेशा में पोस्ट मैटिक स्कॉलरशिप स्कीम में 64 करोड़ रुपए के घोटाले से जुड़ा है। इस घोटाले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग को लेकर बैंस जालंधर में धरना देने पहुंचे थे। पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है। पार्टी प्रमुख सिमरजीत सिंह बैंस पार्टी के जिला प्रधान जसवीर बग्गा के साथ लम्मा पिंड चौक पर पहुंचे थे। विधायक बैंस व उनके समर्थकों ने लम्मा पिंड चौक, किशनपुरा चौक से रेलवे स्टेशन की तरफ प्रदर्शन करना था।

 रेलवे स्टेशन की तरफ प्रदर्शन करना चाहते थे कार्यकर्ता

इसके बाद मदन फ्लोर मिल चौक, शास्त्री मार्केट, कंपनी बाग चौक व भगवान वाल्मीकि चौक की तरफ प्रदर्शन करने जाना था। इसका पता चलते ही एसीपी हरसिमरत सिंह व एसीपी सुखविंदर सिंह की कमान में वहां पहुंच गए। उन्होंने कहा कि बैंस अपना रोष प्रदर्शन लम्मा पिंड चौक के पास ही निपटा लें। उनकी मांग को प्रशासन सरकार तक पहुंचा देगा। इसके बावजूद बैंस व उनके समर्थन शहर की तरफ प्रदर्शन करने निकले तो पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिए जाने से पहले विधायक बैंस ने कहा कि जब वरिष्ठ आईएएस अधिकारी की 37 पेज की रिपोर्ट में साधु सिंह धर्मसोत का नाम आया है तो उन्हें बर्खास्त किया जाना चाहिए। पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप में केंद्र का फंड आता है तो केंद्र सरकार को सीबीआई जांच करानी चाहिए।

दलित वर्ग से कांग्रेस का बहिष्कार करने की अपील करते हुए बैंस ने कहा कि वह पूरे पंजाब में जा रहे हैं और हर जगह उन्हें बहुत समर्थन मिल रहा है। लोग खुद इस घोटाले के खिलाफ हैं और बाहर निकलकर मंत्री की बर्खास्तगी की मांग को समर्थन दे रहे हैं। इसी क्रम में वह जालंधर आए हैं। यहां भी वह शारीरिक दूरी के नियम का पूरा ध्यान रखकर अपना रोष व्यक्त करने आए हैं, लेकिन कांग्रेस सरकार पुलिस के बूते विरोधियों को दबाने की कोशिश कर रही है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।