Breaking News

प्रतिपक्ष के पद पर मंडराए संकट के बादल, कांग्रेस ने की अपील तो हो सकता है नुकसान

Counting of Congress and INLD in Haryana Legislative Assembly 17-17

– हरियाणा विधान सभा में कांग्रेस व इनेलो की हुई गिनती 17-17

-नैना चौटाला सहित 3 विधायक है जेजेपी के साथ, अभय चौटाला के पास है सिर्फ 14 विधायक

सच कहूँ/अश्वनी चावला
चंडीगढ़।
जींद उपचुनाव में बुरी हार का सामना करने वाली इनेलो के हाथों से अब विधानसभा में प्रतिपक्ष का पद भी जाता हुआ नजर आ रहा है। अगर विधानसभा के अध्यक्ष कंवरपाल सिंह गुज्जर खुद इस मामले में संज्ञान ले लेते हैं या फिर कांग्रेस की तरफ से अपील दायर कर दी जाती है तो इनेलो के हाथों से प्रतिपक्ष का पद जा सकता है।

क्योंकि इस समय हरियाणा विधानसभा में इनेलो व कांग्रेस के विधायकों की गिनती बराबर हो गई है इस समय कांग्रेस के पास 17 विधायक है तो इनेलो भी 17 विधायकों के साथ विधानसभा में बैठी है। इनेलो से बागी होकर बनने वाली जेजेपी के पास इस समय नैना चौटाला के सहित तीन विधायक हैं जिसके चलते अगर हरियाणा विधानसभा में विधायकों की हाजिरी लगाई गई तो इनेलो के पक्ष में 17 की जगह मात्र 14 ही रह सकते हैं जिस कारण कांग्रेस किसी भी समय प्रतिपक्ष के पद को हासिल सकती है।

-कांग्रेस हासिल कर सकती है प्रतिपक्ष नेता का पद

पिछले विधानसभा चुनाव 2014 में बीजेपी को 47, इनेलो को 19 और कांग्रेस को 15 सीटों पर जीत हासिल हुई थी, लेकिन कुछ समय बाद हजका का कांग्रेस में विलय होने के बाद उनकी गिनती 15 से 17 हो गयी थी। अभी जींद चुनाव में भाजपा ने जीत हासिल करते हुए अपनी गिनती 47 से 48 कर ली है जबकि इनेलो के पास 17 रह गई है। पेहवा से इनेलो के विधायक जसविंदर संधू के निधन के बाद इनेलो की 18 की गिनती में से एक और कम होते हुए 17 रह गई है। ऐसे में कांग्रेस व इनेलो 17-17 विधायकों के साथ एक बराबर विधानसभा में हो गए हैं। जिस कारण आप नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी को लेकर नहीं लड़ाई विधानसभा में छोड़ गई है।

विधान सभा अध्यक्ष खुद ले संज्ञान

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का कहना है कि जब इनेलो के कई विधायक जननायक जनता पार्टी के साथ जाकर खड़े हो गए हैं तो इस मामले में विधानसभा अध्यक्ष को खुद संज्ञान ले लेना चाहिए, क्योंकि विधानसभा में विधायकों की गिनती नहीं होने के बावजूद भी अभय चौटाला के पास प्रतिपक्ष का पद है।

indi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top