संगरूर में कोरोना की बढ़ी रफ़्तार, नहीं घबराई सरकार, कुछ ही दिनों में 400 का आंकड़ा पार

0
Corona
चंडीगढ़ सच कहूँ/अशवनी चावला। कोरोना के कहर में अब मालवा का संगरूर काफी अधिक योगदान देता नजर आ रहा है। संगरूर में अचानक बढ़े कोरोना के कहर संबंधी सरकार को कोई खास जानकारी ही नहीं मिल रही है कि आखिरकार इस जिले में ऐसा क्या हो रहा है कि यहां ही काफी अधिक मामले कुछ ही दिनों में आ गए हैं। संगरूर कोरोना के अधिक मामलो में राज्य में चौथे नंबर पर पहुंच गया है तो राज्य की कुल मौतों में से 10 प्रतिशत मौतें इसी जिले में हुई हैं, जिस कारण सरकार संगरूर जिले व खास कर मालेरकोटला को लेकर काफी अधिक घबराहट में है। रविवार को राज्य में कोरोना का कहर रहा तो ठीक होने वाले मामलों की अच्छी संख्या आने के कारण कुछ राहत भरी भी खबर है। रविवार को जहां 161 नये केस आए तो 206 मरीज ठीक होकर भी अपने घरों को वापिस लौटे हैं। जो कि कुछ राहत वाली खबर है परंतु पंजाब में मौतें रूकने का नाम ही नहीं ले रही हैं। रविवार को भी 5 ओर मौतें दर्ज की गई हैं।
इसके साथ ही नये 161 केस में संगरूर से 45, लुधियाना से 39, जालंधर से 19, अमृतसर से 12, पटियाला से 6, मोहाली और गुरदासपुर से 8-8, पठानकोट और फतेहगढ़ साहब से 4-4, होशियारपुर, फिरोजपुर और कपूरथला से 3-3, एसबीएस नगर और फरीदकोट से 2-2, तरनतारन, श्री मुक्तसर साहिब और फाजिल्का से 1-1 शामिल है। यहां ही रविवार को हुई 5 मौतों में अमृतसर, पठानकोट, लुधियाना, जालंधर और होशियारपुर से 1-1 मौत हुई है। इसके साथ ठीक होने वाले 206 में अमृतसर से 49, जालंधर से 35, संगरूर से 57, पठानकोट से 10, होशियारपुर से 7, फाजिल्का से 16, मोहाली से 8, पटियाला से 6, कपूरथला से 5, रोपड़ और बठिंडा से 4-4, मुक्तसर और फतेहगढ़ साहब से 2-2, एसबीएस नगर से 1 शामिल हैं। पंजाब में अब कोरोना मरीजों का आंकड़ा 5216 हो गया है, जिसमें से 3526 ठीक हो गए हैं और 133 की मौत हो गई है और इस समय 1557 कोरोना मरीजों का इलाज पंजाब के अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।