कोरोना/कर्फ्यू। हर कोई कर रहा ‘ट्रयू ब्लड पंप’ की प्रशंसा

0
True Blood Pump

सराहनीय : डेरा श्रद्धालुओं ने दीप अस्पताल और श्री गुरू नानक देव जी अस्पताल में किया 31 यूनिट रक्तदान (True Blood Pump)

सच कहूँ/वनरिन्द्र मणकू लुधियाना। जिला लुधियाना अधीन आते ब्लॉक सरींह के शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैलफेयर फोर्स विंग के सेवादारों ने शहर लुधियाना के दीप अस्पताल की ब्लड बैंक में और गुरू नानक देव अस्पताल, मॉडल टॉऊन जाकर रक्तदान किया। सेवादारों ने कुल 31 यूनिट रक्तदान किया। ब्लॉक सरींह के सेवादारों ने दीप अस्पताल में 26 यूनिट रक्तदान किया लेकिन गुरू नानक देव अस्पताल में 5 यूनिट खूनदान किया। खूनदान करने वालों में भाईयों के साथ-साथ बहनों ने भी हिस्सा लिया।

अस्पताल में मौके पर मौजूद 45 मैंबर जसवीर इन्सां व यूथ सन्दीप इन्सां के साथ ब्लाक सरींह के 15 मैंबर यशवंत इन्सां, जसपाल जस्सी इन्सां, जसपाल, आईटी विंग के लवप्रीत इन्सां व कुलविन्दर इन्सां, सुखपाल इन्सां के साथ लुधियाना ब्लॉक के ब्लड समिति के जिम्मेदार जगजीत इन्सां, कुलदीप इन्सां, रणजीत भंडारी इन्सां ने जानकारी देते बताया कि कोरोना वायरस के कारण सरकारों की ओर से लगाए हुए लॉकडाऊन के कारण अस्पतालों में ब्लड की कमी को देखते डेरा श्रद्धालुओं की ओर से अलग -अलग अस्पतालों में ब्लड कैंप लगाए जा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि इन कैंपों दौरान सरकारों की ओर से जारी की हिदायतों का विशेष तौर पर ध्यान रखा जा रहा है, जिनमें मुँह पर मास्क पहनना व हाथों को सैनीटाईज करना आदि विशेष तौर पर सोशल डिस्टैंस का पूरा ख़्याल रखा जाता है। सरींह ब्लॉक के 25 मैंबर मेजर इन्सां ने घर में रहकर ही सेवादारों को फोन और अधिक से अधिक खूनदान करने के लिए कहा। उन्होंने बताया कि अस्पतालों के ब्लड बैंकों में खूनदान की कमी होने के कारण उनको लगातार अस्पतालों में से फोन आ रहे हैं।

मुश्किल घड़ी में प्रशंसनीय कार्य कर रहे डेरा श्रद्धालु : बीटीओ

दीप अस्पताल के डॉ. हरमीत सिंह पर गुरू नानक देव अस्पताल के मैडीकल अधिकारी डॉ. आशीष गौतम ने’डेरा प्रेमियों की प्रशंसा करते कहा कि इस मुश्किल घड़ी में भी आप रक्तदान करने अस्पताल में आ रहे हो। अस्पतालों के डॉक्टरों की तरफ से पूज्य गुरू जी और शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैलफेयर फोर्स विंग के सेवादारों का धन्यवाद किया गया और उन्होंने कहा कि लॉकडाऊन के कारण ब्लड बैंकों में ब्लड की कमी महसूस होने लग गई थी परंतु डेरा श्रद्धालुओं ने आकर इसे दूर कर दिया।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।