दंगल गर्ल बबीता फौगाट को खेल विभाग में मिले बड़े पद से छिड़ा विवाद

0
Controversy erupted over big post in sports department given to Dangal girl Babita Faugat

बबीता की नियुक्ति पर खिलाड़ियों ने ही खड़े किए सवाल

सच कहूँ/अनिल कक्कड़ चंडीगढ़। खिलाड़ी से राजनीति के दंगल में कूदी बबीता फौगाट को हरियाणा सरकार द्वारा खेल विभाग में डिप्टी डायरेक्टर का पद दिए जाने के बाद विवाद खड़ा हो गया है। बबीता को पद दिए जाने के खिलाफ खिलाड़ियों ने सवाल खड़े कर दिए हैं। इंटरनेशनल एथलीट और चार कॉमनवेल्थ गेम्स में मेडल जीत चुकी डिस्कस थ्रोअर सीमा अंतिल ने बबीता फोगाट और कबड्डी खिलाड़ी कविता देवी को खेल विभाग में डिप्टी डायरेक्टर बनाए जाने पर बधाई तो दी लेकिन साथ ही कहा उन्हें खुशी होती अगर बाकी खिलाड़ियों को भी नौकरी दी जाती।

क्या बबीता को बीजेपी से चुनाव लड़ने का इनाम मिला!

मीडिया से बातचीत में सीमा अंतिल ने कहा कि जकार्ता एशियन गेम्स के गोल्ड मेडल विजेता मंजीत चहल जैसे खिलाड़ी के पास नौकरी नहीं है। इसके अलावा कई प्लयेर हैं जो सरकार से जॉब की मांग कर रहे हैं। लेकिन 2 साल से बबीता खेलों में नहीं है, क्या बीजेपी से चुनाव लड़ने की वजह से उसको ये जॉब दी गई।

पिछली सरकारों में भी खिलाड़ियों के साथ हुआ है भेदभाव

फिलहाल रूस में ट्रेनिंग कर रही सीमा ने कहा कि पहले हुड्डा सरकार के समय में भी यही होता रहा है। अब इस सरकार में भी यही हो रहा है। अगर इसी तरह से प्लेयर्स चुप बैठे रहे तो कोई नहीं सुनेगा। यही कारण है कि प्लेयर्स को अपनी जॉब हासिल करने के लिए कोर्ट का सहारा लेना पड़ता है। हरियाणा में कई ऐसे मामले हैं, जहां इंटरनेशनल खिलाड़ियों ने नौकरी हासिल करने के लिए अदालतों का सहारा लिया है।

बबीता और कविता को किया गया है डिप्टी डायरेक्टर नियुक्त

बता दें कि राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहलवान बबीता फोगाट और कविता देवी को हरियाणा सरकार ने खेल विभाग में डिप्टी डायरेक्टर नियुक्त किया है। हरियाणा सरकार ने एक लेटर के जरिए इन दोनों के खेल विभाग में डिप्टी डायरेक्टर बनने की जानकारी दी है। बता दें कि बबीता फोगाट ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2014 में गोल्ड मेडल जीता था।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।