कोरोना : ब्लॉक मलोट की साध-संगत द्वारा लगातार राहत कार्य जारी

0
Relief Work

जरूरतमंदों को लगातार राशन और सब्जियां बांट रही साध-संगत

मलोट(सच कहूँ/मनोज)। डेरा सच्चा सौदा ब्लॉक मलोट की साध-संगत की ओर से कोरोना वायरस के दौरान चल रहे लॉकडाऊन दौरान लगातार राहत कार्य जारी हैं और रोजमर्रा की ही कोई न कोई मानवता भलाई का कार्य शुरू किया जा रहा है ताकि जरूरतमंद परिवारों की जरूरत को पूरा किया जा सके। इसी कड़ी के अंतर्गत ब्लॉक मलोट की साध-संगत की ओर से सोमवार को डेरा सच्चा सच्चा सौदा सांझा धाम मलोट में जरूरतमंद परिवारों को सब्जियां बांटी गई, जिसे बड़े ही सुंदर ढंग से एमएसजी के साथ सजाया गया।

सैनेटाईज का छिड़काव भी जारी

जानकारी देते ब्लॉक मलोट के जिम्मेवार रमेश ठकराल इन्सां, प्रदीप इन्सां, प्रदीप इन्सां, रोबिन गाबा इन्सां, शहरी भंगीदास विकास कामरा इन्सां, सेवक मोहित इन्सां (भोला), रिंकू इन्सां, राम स्वरूप इन्सां ने बताया कि मौजूदा गद्दीनशीन पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां जी की पवित्र प्रेरणाओं अनुसार 134 मानवता भलाई के कार्य किए जा रहे हैं और जब भी देश में किसी तरह की कोई आपदा आती है तो सेवादार आगे आकर मानवता भलाई के कार्य करते हैं और दीन दुखियों के दर्द को अपना दर्द समझते हैं।

इसलिए ब्लॉक मलोट की साध-संगत भी जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आ रही है और 102 जरूरतमंद परिवारों को कई तरह की सब्जियां बांटी गई। उन्होंने बताया कि इससे पहले रविवार को भी साध-संगत की ओर से 131 परिवारों को सब्जियां व घरेलू सामान बांटा गया था और अब तक 525 परिवारों को राशन भी बांटा जा चुका है और सैनेटाईज का छिड़काव करने की भी सेवा लगातार जारी है। इस मौके शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैलफेयर फोर्स विंग की जिम्मेवार बहन प्रवीण इन्सां, रानी इन्सां, उषा इन्सां, सुमन इन्सां, परमजीत इन्सां व प्रहलाद इन्सां भी मौजूद थे।

साध -संगत बुलंद हौसले के साथ कार्य करती रहे: सोम जाखू

पत्रकारों के साथ बातचीत दौरान समाजसेवी सोम जाखू ने कहा कि जिस तरह कोरोना वायरस के दौरान साध-संगत जरूरतमंदों को राशन, सब्जियां बांट रही है और सैनेटाईज का छिड़काव भी कर रही है। इसी तरह बुलंद हौसले के साथ मानवता भलाई के कार्य करती रहे। उन्होंने सेवादारों की प्रशंसा करते कहा कि पूज्य गुरू जी इन सेवादारों को मानवता भलाई कार्यों प्रति और भी हौसला दें, जिससे अधिक से अधिक जरूरतमंद परिवारों की मदद हो सके।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।