पंचायती चुनावों के निकल चुके ड्रा पर संशय के बादल

0
Clouds of doubt over the drawn out panchayat elections

अब दोबारा से निकाले जाएंगे ड्रा, बीसीए के आरक्षण बढ़ने से फंसा पेंच (Panchayat Elections)

  • झज्जर में डिप्टी स्पीकर गंगवा ने दी पत्रकारों को जानकारी
  • कहा : समय पर होंगे पंचायती चुनाव,बीसीए का कोटा बढ़ाने पर होगा सीएम का सम्मान
  • गठबंधन सरकार हरियाणा में कर रही है सभी वर्गों को सम्मान देने पर काम

सच कहूँ/संजय भाटिया झज्जर। पंचायती चुनावों (Panchayat Elections) में हरियाणा सरकार द्वारा बीसीए का कोटा बढ़ाए जाने का प्रस्ताव विस में पास करने से पूर्व जिन पंचायतों के ड्रा निकाले जा चुके है उन पर दोबारा से ड्रा निकाले जाएगें। यह बात हरियाणा के डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा ने झज्जर में मीडिया के रूबरू होकर कही। उन्होंने कहा कि पंचायती चुनावों में बीसीए का कोटा बढ़ाए जाने से यह स्थिति उत्पन्न हुई है।

यहीं वजह है कि जिन पंचायतों के ड्रा इस प्रस्ताव के पास होने से पहले निकाले जा चुके है वहां दोबारा से ड्रा निकाला जाना जरूरी है। गंगवा 29 नवम्बर को हिसार में आयोजित होने वाले पिछड़ा वर्ग के सम्मेलन के लिए यहां सोमवार को अपनी पार्टी की बैकवर्ड क्लास के लोगों को न्यौता देने के लिए आए थे। यहां उन्होंने पत्रकारों के मुखातिब होते हुए कहा कि हरियाणा में पंचायती चुनाव समय पर होंगे।

गंगवा ने यह भी कहा कि पंचायती चुनावों में बीसीए का कोटा बढ़ाया जाना निश्चित रूप से एक सराहनीय कदम है और उसकी जितनी प्रंशसा की जाए उतनी ही कम है। इसलिए हिसार में मुख्यमंत्री के सम्मान में एक कार्यक्रम का आयोजन रखा गया है। जिसमें प्रदेशभर से पिछड़ा वर्ग के लोग पहुंच कर सीएम साहब का इस सराहनींय कदम के लिए आभार जताएगें। उन्होंने कहा कि हरियाणा की गठबंधन सरकार सभी वर्गों को सम्मान दिए जाने की दिशा में काम कर रही है। यहीं वजह है कि आज हर वर्ग सरकार की नीतियों से प्रसन्न है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।