हरियाणा

पलीता। भिवानी में पीएम मोदी के स्वच्छता अभियान को मुंह चिढ़ा रहे गंदगी के अंबार

Cleanliness, Campaign

स्वच्छ भारत की असलीयत देखनी है तो भिवानी चले आईए

  • गरीब तबके की रिहायश होने की वजह से नहीं होती सफाई

सच कहूँ/इंद्रवेश
भिवानी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वच्छ भारत मिशन कितना सिरे चढ़ा है, इसकी असलीयत देखनी है तो भिवानी चले आईए। यहां वार्ड संख्या-13 के ढ़ाणा रोड, आनंद नगर, पंचायती धर्मशाला, बीसी वाली जोहड़ी इलाके में सफाई व्यवस्था पिछले 2 साल से लचर है। सफाई न होने की वजह से जगह-जगह लगे गंदगी के ढेर पीएम नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान की तरफ मुंह चिढा रहे हंै। सबसे बुरी स्थिति पंचायती धर्मशाला के पास बनी है। उस इलाके में सफाई कर्मी व नप के ट्रैक्टर-ट्राली न पहुंचने की वजह से जगह-जगह पर गंदगी के ढेर बने हंै। कूड़ा न उठाने की वजह से कूड़ा बिखर कर सडक व घरों तक पहुंच रहा है।

थोडी सी बारिश में कचरा सड़ने लगता है जिसके कारण वहां पर लोगों का जीना दूभर हो रहा है। आनंद नगर, बीसी वाली जोहड़ी इलाके की स्थिति भी जुदा नहीं है। वहां पर भी कूडे का ढेर लगा है। क्षेत्रवासी एवं सामाजिक कार्यकर्ता सुरेश सैनी ने बताया कि इस बारे में कई बार जिला प्रशासन व नगरपरिषद के पास शिकायत की, लेकिन आज तक उनकी इस समस्या का समाधान नहीं हो पाया है। उन्होंने बताया कि नगरपरिषद लाखों रुपए लगाकर भिवानी में वॉल पेंटिंग करवाई है। वे केवल कागजों तक सीमित है। चूंकि जिन इलाकों में सफाई होनी चाहिए थी। उन इलाकों में अब कूडे के ढेर बिखरे हैं। हालत ये बने हंै कि इन जगहों से लोग नाक सिकोंड़ कर निकल रहे ंहै। अगर यही स्थिति रही तो आने वाले समय में महामारी फैलने की आशंका बन सकती है।

नप से शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं

भिवानी के प्रत्येक वार्ड में गंदगी उठाने के लिए दो-दो आॅटो लगाए हुए हैं, लेकिन हैरानी की बात यह है कि वार्ड नम्बर-13 में एक भी आॅटो नहीं है बल्कि सफाई कर्मचारी भी नहीं है। वार्ड के लोगों में सफाई को लेकर हो रहे भेदभाव को लेकर जबरदस्त रोष व्याप्त है। कई दफा इलाके के सीवर व बरसाती पानी की निकासी के लिए बनाए गए नाले की सफाई की शिकायत नगरपरिषद व जिला प्रशासन से की गई लेकिन उनकी शिकायत पर कोई अमल नहीं हुआ।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top