अबोहर : धुंध और कीचड़ में स्कूल पहुंचे बच्चे, धूप से मिली थोड़ी राहत

0
Rain

दोपहर  तक चलता रहा बारिश का दौर | Rain

अबोहर (सच कहूँ/सुधीर अरोड़ा)। लोहड़ी पर्व पर तेज (Rain) बारिश का दौर चला और शाम को बर्फीली हवाएं भी चलीं किंतु आज मंगलवार को दिन के उजाले की शुरुआत सूर्य देवता के विराट दर्शन के साथ हुई। हालांकि धुंध के बीच सूर्य जब निकल रहे थे तो उस समय का दृश्य अलौकिक था। सोमवार और मंगलवार को मौसम के बीच में भारी अंतर दिखाई दे रहा था।सोमवार दिन की शुरुआत तेज बारिश के साथ हुई थी। बारिश का दौर दोपहर तक चलता रहा। कभी बूंदाबांदी हुई तो कभी बौछार बंद भी हुर्इं।सड़कों पर बने गड्ढे लोगों के लिए परेशानी की वजह बन गये हैं। मंगलवार को मौसम में परिवर्तन हुआ।

सुबह शुरुआत तो धुंध के साथ हुई थी किंतुजैसे ही सूर्य देवता ने अपने विराट रूप में दर्शन दिये तो धूप निकल आयी। यह धूप तो कुछ देर की थी क्योंकि बादलों ने एक बार फिर से सूर्य देवता की किरणों को पृथ्वी तक पहुंचने से पहले रोक दिया था। प्रकृति के बार-बार बदल रहे व्यवहार का आनंद इलाके के लोग भी ले रहे हैं। हालांकि शीतलहर ने इस बार दशकों पुराने रिकॉर्ड को तोड़ दिया। सुबह धुंध के बीच में सूर्य उदय हो रहा था तो उस समय का दृश्य दिल को ऐसी खुशी देने वाला था, जिसकी तलाश सदैव रहती है।

आज मौसम साफ रहने ओर धूप निकलने से ठंड से कंपकंपा रहे लोगों को भारी राहत मिली। पिछले एक सप्ताह में चार दिन तक बरसात हो चुकी है। पिछले रविवार से लेकर मंगलवार तक तीन दिन बरसात के बाद बुधवार को धूप निकली थी और इसके बाद कल सोमवार पुन: बरसात हुई। वहीं धुंध कोहरे ओर सड़कों पर बरसात से फैले कीचड़ से बच्चे मजबूर होकर स्कूल पहुंचने को पहुंचते दिखाई दिए।

धुंध की चादर में लिपटा चंडीगढ़, ठंडी हवाओं से बढ़ी ठिठुरन | Rain

चंडीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। बारिश के बाद मंगलवार सुबह पूरे शहर में धुंध की चादर बिछ गई। बारिश के बाद पड़ी धुंध ने ठिठुरन और बढ़ा दी है। इस बीच सड़क पर सुरक्षित सफर के लिए ट्रैफिक पुलिस ने सड़क पर मेनुअली ट्रैफिक मैनेजमेंट की कमान संभाली। ट्रैफिक पुलिस शहरवासियों के मोबाइल पर पर्सनल मैसेज भेजने के साथ सोशल मीडिया पर फोटो और जागरुकता से जुड़ी लाइनें लिख पोस्ट कर रही है। वहीं कोहरे से विजिबिलिटी कम होने के कारण पीक आॅवर्स में सुबह फॉग की वजह से गाड़ियों की रफ्तार धीमी हो गई है। मौसम विभाग के निदेर्शानुसान कोहरा बढ़ने की संभावना पर ट्रैफिक पुलिस ने दिसंबर से तैयारी कर ली थी।

ब्लैक की विजिबिलिटी बिल्कुल नहीं: डीएसपी ट्रैफिक एसपीएस सोंधी ने बताया कि रात से समय धुंध के दौरान साइकिल, बाइक सवार और पैदल चलने वालों के कपड़ों का रंग काफी मायने रखता है। सबसे विजिबिलिटी वाले कलर में पहले ब्राइट ग्रीन आता है। इसके बाद क्रम में व्हाइट फिर येलो आता है। इनसे कम रेड और अंत में ब्लू कलर आता है। ब्लैक की विजिबिलिटी बिल्कुल भी नहीं है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।