देश

देश के सामने युवाओं को रोजगार देना चुनौती : प्रणब

Pranab Mukherjee, Reputation, Post, Govt, President, India

राष्ट्रपति  ने 100 गांव और लिए गोद

दौला समेत पांच गांवों को बनाया स्मार्ट ग्राम

गुरुग्राम। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि युवाआें को रोजगार देना देश के सामने चुनौती है। रोजगार के अभाव में हर साल 10 लाख युवा शहरों में पहुंच रहे हैं। हमें गांवों में ऐसी सुविधा देनी है, जिससे गांवों में ही रोजगार के अवसर मिलें। इससे गांवों की आर्थिक स्थिति भी ठीक होगी और इसका देश को फायदा होगा। यह बात उन्होंने जिला के गांव दौला को गोद लेकर स्मार्ट बनाने के बाद स्मार्ट ग्राम पहल के तहत चालक प्रशिक्षण संस्थान तथा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय का शिलान्यास समारोह में कही।

राष्ट्रपति ने कहा कि अगर गांवों को सक्षम करना है तो बेटियों, बहनों, माताआें को भी आगे बढ़ाना होगा। निजी क्षेत्र की सहभागिता से गांवों का भरपूर विकास किया जा सकता है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि देश की 68 फीसदी आबादी गांवों में बसती है। इसलिए गांवों का विकास भी बेहद जरूरी है। कृषि और इससे जुड़े क्षेत्रों का हमारे देश के सकल घरेलू उत्पाद में लगभग 15 प्रतिशत योगदान है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने तावड़ू को उपमंडल बनाने की घोषणा

गांवों को कुशल बनाने के लिए आर्थिक ढांचे को मजबूती प्रदान की जानी चाहिए। जब सरकार, प्राइवेट सेक्टर, एनजीओ और एकेडमिक इंस्टीट्यूट मिलकर काम करेंगें तो गांवों का विकास बेहतर किया जा सकता है। इस दौरान राष्ट्रपति ने प्रदेश के 100 और गांवों को स्मार्ट ग्राम बनाने की बात कही। राष्ट्रपति की ओर से जिला के गांव दौला, अलीपुर, हरचंदपुर, ताजनगर और रोजकामेव को गोद लेकर कायापलट की गई है। इस दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने तावड़ू को उपमंडल बनाने की घोषणा की।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top