केन्द्रीय दल आज करेगा सूखे से हुए नुकसान का आंकलन

0
Drought affected

पूरा दिन जिले के सूखा प्रभावित क्षेत्र का दौरा करेगा दल

  •  निरीक्षण से पहले कलक्टर ने ली तैयारी बैठक (Drought affected)

हनुमानगढ़, सच कहूँ न्यूज। खरीफ 2019 में सूखे से जिले में हुए नुकसान के (Drought affected) आकलन के लिए अंतर मंत्रालयिक केन्द्रीय दल सोमवार रात को हनुमानगढ़ पहुंचेगा। केन्द्रीय दल के निरीक्षण से पहले जिला कलक्टर जाकिर हुसैन ने सोमवार को जिला कलक्टेट में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की तैयारी बैठक ली। बैठक में एडीएम अशोक असीजा, जिला परिषद सीईओ परशुराम धानका, एसडीएम कपिल यादव, सीएमएचओ डॉ. अरुण चमड़िया, पीआरओ सुरेश बिश्नोई सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। जिला कलक्टर जाकिर हुसैन ने बताया कि आपदा प्रबंधन और सहायता विभाग के शासन सचिव की ओर से जारी किए कार्यक्रम के मुताबिक केन्द्रीय दल भारत सरकार के कृषि मंत्रालय की संयुक्त सचिव सोमिता बिस्वास के नेतृत्व में सोमवार रात करीब सात बजे बीकानेर से हनुमानगढ़ पहुंचेगा।

अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद साढ़े 9 बजे जिला कलक्ट्रेट से रवाना होगा

तीन सदस्यीय दल रात्रि विश्राम हनुमानगढ़ में करने के बाद मंगलवार सुबह 8 बजे जिला कलक्टर और कृषि, पशुपालन, जल संसाधन, सहकारिता, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, राजस्व और जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद साढ़े 9 बजे जिला कलक्ट्रेट से रवाना होगा। केन्द्रीय दल टिब्बी, तलवाड़ा झील व ऐलनाबाद होते हुए 11 बजे 1 ए बारानी व 2 ए बारानी क्षेत्र का निरीक्षण करेगा। इसके बाद दल 11.30 बजे श्योदानपुरा बारानी, ढाणी लाल खां, देईदास, 11.55 बजे भगवान, दोपहर 12.30 बजे भूकरका में निरीक्षण के बाद 1 बजे नोहर पहुंचेगा। लंच करने के बाद दल दोपहर 2.45 बजे गोरखाना पहुंचकर सूखा प्रभावित क्षेत्र का दौरा करेगा। इसके बाद दल 3.15 बजे मन्दरपुरा व शाम 4 बजे खुईयां में सूखा प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण करेगा। इसके बाद केन्द्रीय दल चूरू जिले के लिए रवाना हो जाएगा।

जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारी साथ रहेंगे

जिला कलक्टर ने बताया कि केन्द्रीय दल के दौरे के समय उनके साथ कृषि, पशुपालन, जल संसाधन, सहकारिता, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, राजस्व और जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारी साथ रहेंगे। इसके अलावा केन्द्रीय दल में शामिल सदस्य भ्रमण के दौरान जनप्रतिनिधियों, विधायकों, किसानों और आमजन से भी चर्चा करेंगे। जिला कलक्टर के अनुसार केन्द्रीय दल के भ्रमण कार्यक्रम के दौरान वे स्वयं भी उनके साथ रहेंगे। केन्द्रीय दल को पीपीटी के माध्यम से जिले की प्रोफाइल और सूखे की स्थिति से अवगत करवाया जाएगा।

केन्द्रीय दल को तीन अलग-अलग टीमों में बांटा गया है

इसके अलावा केन्द्रीय दल की किसान, आमजन और जनप्रतिनिधियों स वार्ता करवाई जाएगी। खरीफ 2019 के अंतर्गत राजस्थान के बीकानेर, हनुमानगढ़, बाड़मेर, जोधपुर और जैसलमेर जिलों में सूखे से हुए नुकसान के आकलन को लेकर केन्द्रीय कृषि मंत्रालय की संयुक्त सचिव सोनिया बिस्वास के नेतृत्व में 9 सदस्य अंतर मंत्रालयिक दल 16 से 18 दिसम्बर तक चारों जिलों में दौरा कर रहा है। केन्द्रीय दल को तीन अलग-अलग टीमों में बांटा गया है। एक दल जोधपुर और जैसलमेर, दूसरा बीकानेर और हनुमानगढ़ और तीसरा दल बाड़मेर जिले का दौरा कर रहा है। दूसरा दल जो बीकानेर और हनुमानगढ़ आ रहा है। उसमें तीन अधिकारी शामिल हैं।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।