दिल्ली में केंद्र सरकार का हस्तक्षेप जरूरी: मायावती

0
Mayawati

नयी दिल्ली। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने दिल्ली में बाहरी लोगों को इलाज की अनुमति नहीं देने के लिए दिल्ली सरकार की आलोचना की है और इस मामले में केंद्र सरकार से हस्तक्षेप करने को कहा है। मायावती ने सोमवार को एक ट्वीट में कहा कि दिल्ली देश की राजधानी है। बाहर के बहुत सारे लोगों को अपने जरूरी काम के लिए यहां आना पड़ता है। आपातस्थिति में लोग अपने इलाज के लिए भी दिल्ली पहुंचते हैं। बाहर के लोगों को दिल्ली में इलाज के अनुमति नहीं देना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने इस मामले में केंद्र सरकार के हस्तक्षेप की मांग की है।

Arvind Kejriwal

उन्होंने कहा, “दिल्ली देश की राजधानी है। यहाँ पूरे देश से लोग अपने जरूरी कार्यों से आते रहते हैं। ऐसे में यदि कोई व्यक्ति अचानक बीमार पड़ जाता है तो उसको यह कहकर कि वह दिल्ली का नहीं है, इसलिए दिल्ली सरकार उसका इलाज नहीं होने देगी, यह अति-दुर्भाग्यपूर्ण है। केन्द्र को इसमें जरूर दखल देना चाहिये।” दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि शहर में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप और संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते हुए शहर से बाहर के लोगों का यहां के अस्पतालों में इलाज नहीं होगा। कैंसर और अन्य गंभीर बीमारियों के लिए हालांकि दिल्ली से बाहर के लोग यहां के अस्पतालों में इलाज के लिये आ सकते हैं।

एक अन्य ट्वीट में मायावती ने लोगों को कोरोना महामारी के संदर्भ में सावधानी बरतने की सलाह दी और जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलने को कहा। उन्होंने कहा, “अनलाॅक-1 के तहत आज से जो भी धार्मिक स्थल और बाजार आदि खोले जा रहे हैं, वहाँ जाने के लिए लोगों को सरकारी नियमों का सख्ती से पालन करना चाहिये।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।