आढ़ती आत्महत्या की सीबीआई जांच और परिवार को मुआवजे की मांग

0
CBI

हिसार (सच कहूँ न्यूज)। हरियाणा में हिसार उद्योग व्यापार मंडल ने अम्बाला के आढ़ती मदनलाल आत्महत्या घटना की केंद्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) से जांच कराने और मृतक के परिवार को 50 लाख रुपए मुआवजा और परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी देने की मांग की है। मंडल के प्रदेश प्रभारी पृथ्वी सिंहल और प्रदेश सचिव सौरभ मित्तल ने शनिवार को जारी एक वक्तव्य में कहा कि हरियाणा में भ्रष्टाचार चरम पर है और व्यापारियों को परेशान और उनका उत्पीड़न किया जा रहा है जिसका ताजा उदाहरण अम्बाला शहर की अनाजमंडी में शुक्रवार को शुभम ट्रैडर्स के नाम से आढ़ती मदनलाल का आत्महत्या करना है।

इन्होंने कहा कि मदनलाल ने अपने सुसाईड नोट में हैफेड डीएम को अपनी मौत के लिये जिम्मेदार बताया है। व्यापारी नेताओं ने कहा कि अम्बाला सिटी पुलिस ने इस मामले में हैफेड डीएम के खिलाफ पुलिस ने मृतक मदनलाल के बेटे शुभम की शिकायत पर धारा 306 के तहत केस दर्ज कर लिया है और जांच कर रही है। इन्होंने कहा कि मदनलाल के बेटे शुभम ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि उनके पिता कुछ समय से परेशान थे और कहते थे कि हैफेड के डीएम विकास देशवाल शैलर चलाने की परमिशन नहीं दे रहे हैं और दस लाख रुपए रिश्वत मांग कर रहे हैं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।