कैंसर पीड़ितों ने मांगों को लेकर मैडीकल कॉलेज समक्ष लगाया धरना

0
Protest

अस्पताल प्रशासन ने मांगें मानने का भरोसा देकर समाप्त करवाया धरना और भूख हड़ताल | Protest

टियाला(नरेन्द्र सिंह चौहान)। मैडीकल कॉलेज के प्रिंसीपल के दफ़्तर के बाहर कैंसर पीड़ितों की ओर से (Protest ) भाजपा नेता अजय गोयल के नेतृत्व में रोष धरना और भूख हड़ताल जैसे ही शुरू की गई तो इसके बाद राजिन्द्रा अस्पताल प्रशासन ने हरकत में आते इन कैंसर पीड़ितों की मांगें मानने का भरोसा दिया और इन धरनाकारियों को प्रशासन की तरफ से एमएस ने मौके पर धरने में पहुंचकर जूस पिला कर इनका धरना और भूख हड़ताल समाप्त करवाई गई।

अजय गोयल ने बताया कि कैप्टन सरकार कैंसर के मरीजों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रही है। सरकार की ओर से इन मरीजों के डेढ़ लाख रुपये के मुफ़्त इलाज के कार्ड बनाऐ हुए हैं परन्तु इन मरीजों का मुफ़्त इलाज होने की जगह इनको परेशान किया जा रहा है कभी कोई दवा नहीं मिलती कभी फंड की कमी का बहाना बनाकर इन मरीजों से निजी खर्च पर प्राईवेट टैस्ट करवाए जाते हैं और कैंसर पीड़ितों को यह कहा जाता है कि बाद में चैक के द्वारा पैसे अकाऊंट में डाल दिए जाएंगे।

धरनकारियों को एमएस ने जूस पिलाकर करवाया धरना समाप्त | Protest

कैंसर पीड़ित आशा नाहर ने कहा कि उनकी कीमोग्राफी लगाई गई थी और आगे ईलाज शुरू करन के लिए पेट का टैस्ट होना दो दिन के अंदर जरूरी है जो कि फरीदकोट में होगा यह टैस्ट पर खर्च 14 हजार के करीब है परंतु अस्पताल की ओर से बिल्कुल मौके पर उनको कहा गया कि सरकारी फंड नहीं है यह टैस्ट वह अपने खर्च पर करवाएं बाद में जब सरकार फंड देगी तो वह राशि देंगे। उनकी माली हालत ठीक नहीं है।

कैप्टन सरकार कैंसर पीड़ित मरीजों की जिंदगी के साथ कर रही खिलवाड़ : गोयल

भाजपा नेता अजय गोयल ने बताया कि कैप्टन सरकार कैंसर पीड़ित के मरीजों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रही है। सरकार की ओर से इन मरीजों के डेढ़ लाख रुपये के मुफ़्त इलाज के कार्ड बनाऐ हैं परन्तु इन मरीजों का मुफ़्त इलाज होने की जगह परेशान किया जा रहा है कभी कोई दवा नहीं मिलती कभी फंड की कमी का बहाना बनाकर इन मरीजों से निजी खर्च पर प्राईवेट टैस्ट करवाए जाते हैं और कैंसर पीड़ितों को यह कहा जाता है कि बाद में चैक द्वारा पैसे अकाऊंट में डाल दिए जाएंगे।

  • अजय गोयल ने कैप्टन सरकार की जोरदार निंदा करते हुए कहा
  • यह बहुत शर्मनाक बात है वह कैप्टन अमरिन्दर सिंह से पूछना चाहते हैं
  • अगर फंड की कमी के कारण इन मरीजों को कुछ हो गया तो उसकी जिम्मेदारी किसकी होगी।
  • वह इन मरीजों के लिए संघर्ष करते रहेंगे।
  • आज के धरने के बाद पंजाब के हैल्थ सचिव की ओर से
  • फरीदकोट कॉलेज को नोटिफिकेशन जारी किया गया
  •  कैंसर पीड़ितों के पेट के टैस्ट का बिल राजिन्द्रा अस्पताल को भेजा जाये
  • राजिन्द्रा अस्ताल प्रशासन की ओर से धरनाकारियों को जूस पिला कर धरना और भूख हड़ताल समाप्त करवाई गई।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।