बसपा ने दिल्ली दंगे की जांच उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश से कराने की मांग की

0
Delhi Riots, BSP

दिल्ली दंगे में बड़े पैमाने पर जान माल की हानि हुई (Delhi Riots)

लखनऊ (एजेंसी)। बहुजन समाज पार्टी ने दिल्ली में हुये दंगे की जांच उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश से कराने की मांग की है और इसके लिये राष्ट्रपति को पत्र लिखा है। (Delhi Riots)बसपा प्रमुख मायावती ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को शुक्रवार को भेजे पत्र में कहा है कि दिल्ली दंगे में बड़े पैमाने पर जान माल की हानि हुई है ।

यह भी सच है कि दिल्ली 1984 जैसे दंगे से बच गई । इसकी जांच उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश की निगरानी में कराई जानी चाहिये ताकि इसका कोई नतीजा निकल सके और जनता को यह लीपापोती नहीं लगे।

  • सुश्री मायावती ने कहा कि दिल्ली में हुआ दंगा बहुत की दुर्भाग्यपूर्ण है,
  • जिसमें पुलिस और खुफिया विभाग की नाकामी साफ दिखाई देती है।
  • उन्होंने राष्ट्रपति से आग्रह किया है कि दंगे में जिन लोगों को जान माल का नुकसान हुआ है,
  • उसे केंद्र और दिल्ली सरकार से उचित मुआवजा दिलाया जाय ।
  • सुश्री माशवती ने कहा कि उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिये जो इसके जिम्मेवार हैं।

दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या अब तक 38

उत्तर- पूर्वी दिल्ली में तीन दिनों तक हुई हिंसा मरने वालों की संख्या 38 हो गई है, जिसमें गुरु तेग बहादुर अस्पताल में 34 लोगों की, लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में तीन तथा एक व्यक्ति की जग प्रवेश चंद अस्पताल में मौत हुई है।

  • इस इलाके में तीन दिनों तक हुई हिंसक वारदातों में लगभग 200 लोग घायल हुए हैं।
  • जिसमें से कई लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है।
  • फिलहाल हालात नियंत्रण में है।
  • जांच के लिए क्राइम ब्रांच के अंतर्गत एक विशेष जांच टीम (एसआईटी) का गठन किया गया है।
  • दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी मनदीप सिंह रंधावा ने बताया कि हिंसाग्रस्त इलाकों में समुचित संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात करने के बाद हालात नियंत्रण में है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।