हरियाणा

5 जिलों में सीमाएं सील

Border, Seal, Districts, Administration, Alert, Haryana

एसवाईएल को लेकर इनैलो का ‘रास्ता रोको प्रदर्शन’

  • प्रशासन पूरी तरह अलर्ट
  • डीजीपी ने किया अंबाला व शंभू का दौरा
  • दोनों राज्यों की पुलिस चलाएगी संयुक्त आप्रेशन

चंडीगढ़ (अनिल कक्कड़)।  सतलुज यमुना लिंक (एसवाईएल) नहर के पानी पर राजनैतिक लड़ई अब सड़क पर आने को है। इनैलो पार्टी द्वारा किए जा रहे ‘रास्ता रोको आंदोलन’ को असफल करने के लिए सरकार भी कमर कस चुकी है। प्रदर्शन को लेकर हरियाणा के पाँच जिलों में अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

हरियाणा के पुलिस महानिदेशक ने रविवार की शाम जहां अंबाला तथा शंभू बैरियर का दौरा किया, वहीं अंबाला रेंज के आईजी आर.सी. मिश्रा तथा पटियाला रेंज के आईजी ने आज अंबाला की सीमा का दौरा करके पुलिस बल को तैनात कर दिया है।

पैरा-मिल्ट्री फोर्स की चार कंपनियों के अलावा हरियाणा पुलिस के जवान बार्डर पर तैनात किए जा चुके हैं। आधी रात से ही पंजाब पुलिस ने हरियाणा के सहयोग के लिए पंजाब पुलिस की 30 टुकडिय़ां बार्डर पर तैनात की हैं।

बता दें कि चंडीगढ़-अंबाला और अंबाला-राजपुरा नेशनल हाईवे को सरकार सबसे संवेदनशील मानकर चल रही है। ये दोनों मार्ग उत्तरी राज्यों के लिए अहम हैं। नेशनल हाईवे-1 पर अगर किसी तरह की रुकावट पैदा होती है तो बड़ी मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं।

वहीं इनेलो के इस आंदोलन को देखते हुए हरियाणा सरकार ने पाँच जिलों अंबाला, फतेहाबाद, सिरसा, जींद व कैथल को हाई-अलर्ट पर रखा है। प्रदर्शन के मद्देनज़र हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू व गृह सचिव रामनिवास ने रविवार को पांचों जिलों के डीसी व एसपी से बात की और सुरक्षा प्रबंधों की समीक्षा की।

बहती गंगा में हाथ धोना चाहती है इनैलो : भाजपा

प्रस्तावित प्रदर्शन पर भारतीय जनता पार्टी सरकार के मुख्यमंत्री मनोहर लाल सहित अन्य नेताओं ने इनैलो को घेरते हुए कहा है कि यह केवल राजनीति से प्रेरित है, इनैलो केवल बहती गंगा में हाथ धोना चाहती है।

इनैलो और कांग्रेस के पास आज कोई मुद्दा नहीं बचा है, इसलिए ये दोनों पार्टियां किसानों व एसवाईएल की आड़ में केवल अपनी राजनीतिक जमीन को बचाए रखना चाहती हैं।

वहीं कृषि मंत्री ओ.पी.धनखड़ ने कहा कि 11 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट में एसवाईएल पर सुनवाई होनी है। जिसके हरियाणा के हित में फैसला आने की उम्मीद है और इनेलो इससे एक दिन पहले 10 जुलाई को बार्डर सील करने के नाम पर ड्रामा कर रही है।

उधर भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि यह केवल इनैलो का स्टंट है। एसवाईएल पर सभी फैसले हरियाणा के हित में है। ऐसे में इनेलो अपनी उपस्थिति दर्ज करवाना चाहती है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top