मानसा : करोड़ों की ग्रांट के बावजूद सुविधाओं से वंचित बोहा निवासी

0
Basic Facilities Problems

सिर्फ चुनावों के समय ही ली जाती है हमारी सार : स्थानीय निवासी | Basic Facilities Problems

मानसा/बोहा(तरसेम)। नगर पंचायत बोहा का पांच साल का कार्यकाल लगभग पूरा होने जा रहा है परंतु बोहा के तेरह वार्डों में से वार्ड नंबर एक (रिजर्व) के निवासी अभी भी विकास कार्य (Basic Facilities Problems) शुरू होने के इन्तजार में हैं और बोहा मंडी के विकास के लिए करोड़ों की ग्राटें जारी होने के बावजूद जरूरी सुविधाओं से वंचित हैं। इस संबंधी बातचीत करते मौहल्ला निवासी बग्गा सिंह, निरंजण सिंह, बसंत सिंह, निक्का सिंह, जग्गी सिंह ने रोष के तौर पर कहा कि एक तरफ तो बोहा मंडी की काया कल्प करने के बड़े -बड़े दावे किए जा रहे हैं वहीं इस मंडी का वार्ड नंबर एक जो कहने को तो नंबर वन है परंतु सुविधाओं पक्ष से सभी वार्डों से पीछे है।

लोगों ने बताया कि इस बार यह वार्ड एससी के लिए आरक्षित था इस वार्ड में 400 के करीब वोटर हैं, जिनकी सार सिर्फ चुनावों के समय पर ली जाती है और बाद में पांच साल यहां कोई राजनीतिक नेता या नगर पंचायत के सदस्य लोगों की तकलीफें सुनना मुनासिब नहीं समझते। वार्ड निवासियों का कहना है कि इस वार्ड की गलियों-नालियों की हालत बेहद दयनीय है और बरसात के दिनों में पानी की निकासी न होने के कारण पानी घरों में घुस जाता है और गलियों में पैदा हुए कीचड़ के साथ लोगों का गुजरना बहुत मुश्किल हो जाता है।

वार्ड निवासियों की मांगें जायज : गोयल| Basic Facilities Problems

इस संबंधी नगर पंचायत बोहा के अध्यक्ष सुनील गोयल ने वार्ड निवासियों की मांगों को जायज ठहराते कहा कि पूरी बोहा मंडी में सीवरेज डालने का काम जंगी स्तर पर चल रहा है जो कि अभी कुछ वार्डों में ही मुकम्मल हुआ है और बहुत जल्दी सीवरेज का काम इस वार्ड में भी शुरू हो जायेगा और सीवरेज का काम मुकम्मल होते ही जहाँ पानी की निकासी का मसला हल हो जाएगा वहीं पकी गलियों व पक्की नालियों का काम भी साथ साथ मुकम्मल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उनके लिए सभी बोहा निवासी समान हैं कोई व्यक्ति किसी भी समय उनको मिलकर अपनी समस्या बता सकता है और बोहा मंडी के सर्वपक्षीय विकास के लिए वह हमेशा प्रयत्नशील हैं। जब इस संबंधी वार्ड की एमसी मूर्ति कौर और उसके पति सोहण सिंह के साथ संपर्क करने की कोशिश की तो उन के साथ संपर्क नहीं हो सका।

वार्ड वासियों को सुविधाओं से किया जा रहा अनदेखा

  • लोगों ने बताया कि प्रशासन ने पकी नालियां बनाने की बजाय सड़क किनारे तीन 20 -20 फुट गहरे गड्ढे खोद दिए हैं।
  • जिनमें बस्ती का पानी जमा होता है और लोग घरों में दाखिल हुआ बरसाती पानी बाल्टियों के साथ इन गड्ढों में डालते हैं।
  • और गड्ढे किसी बड़े हादसे का कारण भी बन सकते हैं क्योंकि इनको कवर नहीं किया गया।
  • इसके इलावा बरसाती पानी की मार के कारण घरों और यहां बनी धर्मशाला की छतों में दरारें आ गई हैं।
  • जिस कारण किसी का भी जानी माली नुक्सान हो सकता है।
  • लोगों ने उलाहना दिया कि दूसरे वार्डों में धनाढ्य लोग और बड़े राजनीतिक नेता रहते है।
  • जिस कारण उनके वार्डों के काम पहल के आधार पर हो रहे हैं परंतु यह वार्ड जो रिजर्व है।
  • यहां दलित वर्ग के साथ संबंधित गरीब लोग रहते हैं ।
  • इस लिए हमारी मांगों व अन्य लोक भलाई की स्कीमों समय पर हमें अनदेखा किया जाता है।
  • यहां के निवासियों ने धमकी भरे अंदाज में कहा कि वह आगामी नगर पंचायती चुनावों
    के समय पर झूठे वायदे और दावे करने वाले राजनीतिक नेताओं को सबक सिखाने के लिए तैयार है।
  • जिसके लिए वह बाकायदा अलग समिति भी गठन करने संबंधी भी सोच रहे हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।