सराहनीय। सेवादारों द्वारा पिछले 2 महीनों में तीसरी बार लगाया गया है रक्तदान कैंप

0
Blood Donation Camp

सेवादारों का रक्तदान करने का कार्य बहुत ही प्रशंसानीय : डॉ. रवनीत कौर

पटियाला/फतेहगढ़ साहिब(सच कहूँ/अनिल लुटावा)। कोरोना महामारी ने विश्व भर में तबाही मचा रखी है। अस्पतालों के ब्लड बैंकों में रक्त की कमी को पूरा करने के लिए लगने वाले रक्तदान कैंप भी रूक गए हैं। मरीजों के ईलाज में रक्त की जरूरत पड़ने पर खून की कमी न आए इसलिए फतेहगढ़ साहब के ब्लड बैंक के डॉक्टरों ने डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालुओं के साथ रक्तदान सम्बन्धित संपर्क किया और 36 यूनिट रक्तदान किया गया। आज विश्व रक्तदाता दिवस मौके आज जिला फतेहगढ़ साहब के शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैलफेयर फोर्स विंग के सदस्यों की ओर से 36 यूनिट खूनदान देकर इंसानियत का फर्ज निभाया गया, जहां आज कल कोरोना महामारी के कारण लोग घर से बाहर नहीं निकल रहे वहीं, डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालुओं की ओर से निस्वार्थ भावना के साथ मानवता भलाई के कार्यों को किया जा रहा है।

कोरोना/विश्व रक्तदाता दिवस। डेरा श्रद्धालुओं ने किया 36 यूनिट रक्तदान

पिछले 2 महीनों में डेरा श्रद्धालुओं की ओर से तीसरा रक्तदान कैंप लगाया गया है और अब तक इन कैंपों में 356 यूनिट खूनदान किया गया है। इस संबंधी बातचीत करते डेरा श्रद्धालु प्रदीप इन्सां 15 मैंबर जिला फतेहगढ़ साहब ने बताया कि सिविल अस्पताल फतेहगढ़ साहब में मरीजों को रक्त की जरूरत पड़ने पर अस्पताल के ब्लड बैंक में से एक न्योता पत्र सेवादारों के नाम भेजा गया, जिसमें उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण ब्लड की कमी हो रही है और थैलेसीमिया, कैंसर, डायलासिस व मेजर अनीमियों के मरीजों को ब्लड देने के लिए ब्लड की जरूरत है। जिस पर अमल करते 15 मैंबर प्रदीप इन्सां ने डेरा सच्चा सौदा और ब्लड पंप के नाम से जाने जाते डेरा श्रद्धालुओं के साथ संपर्क किया।

जिले के पांच ब्लॉकों के सेवादारों ने आज विश्व थैलेसीमिया दिवस मौके खुद फतेहगढ़ साहब के सिविल अस्पताल के ब्लड बैंक में जाकर 36 यूनिट खूनदान किया। इस मौके डॉ. रवनीत कौर डीटीओ की ओर से खूनदान देने वाले श्रद्धालुओं को सर्टीफिकेट भी दिए गए। इस मौके डॉ. अवतार विर्क, बलतेज इन्सां, जसपाल, हरनेक सिंह, जसन बांसल, अनिल बांसल, हरजीत, बिक्रम सिंह, गुरप्रीत सिंह, मनोज कुमार, प्रदीप इन्सां, बलजीत इन्सां, सोहन दास, मनदीप सिंह आदि उपस्थित थे।

क्या कहना है अस्पताल के डीटीओ डॉ. रवनीत कौर का  

डीटीआरे डॉ. रवनीत कौर ने कहा कोविड-19 के चलते हमें ब्लड की इस मौके बहुत जरूरत थी जबकि इस मौके कोई कैंप आदि भी नहीं लग रहा और डेरा सच्चा सौदा की शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैलफेयर फोर्स विंग की ओर से पिछले 2महीनों से यह तीसरा खूनदान कैंप लगाया गया है। उन्होंने कहा कि डेरा सच्चा सौदा के सेवादारों ने जो खूनदान किया वह बहुत ही प्रशंसनीय कार्य है। उन्होंने कहा कि डेरा श्रद्धालुओं की ओर से यह पहली बार नहीं ब्लड बैंक में खूनदान किया बल्कि हमारे ब्लड बैंक को जब भी ब्लड की जरूरत पड़ती है तो सेवादार उस समय ही रक्त की जरूरत पूर्ति करने के लिए पहुंच जाते हैं। उन्होंने इस मौके शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैलफेयर फोर्स विंग व पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह इन्सां जी का तहदिल से धन्यवाद किया।

क्या कहना है शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैल्फेयर फोर्स विंग के जिम्मेवारों का

बातचीत करते अनिल बांसल इन्सां व डॉ.अवतार विर्क इन्सां जिम्मेवार शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैल्फेयर फोर्स विंग अमलोह ने बताया कि इस संस्था के सदस्यों को ‘ट्रयू ब्लड पंप’ के नाम के साथ भी जाना जाता है क्योंकि इस संस्था के सदस्य आम दिनों में भी जरूरत पड़ने पर जरूरतमन्द को खून उपलब्ध करवाते हैं चाहे जरूरतमन्द को उसकी जरूरत दिन में पड़े या रात को। सेवादार तुरंत उसकी जरूरत को पूरा करते हैं। उन्होंने बताया कि ब्लड बैंक की ओर से सिर्फ 36 यूनिट खून ही लिया गया परन्तु लाकडाउन के बावजूद भी 60 सेवादार ब्लड देने के लिए सिविल अस्पताल फतेहगढ़ साहिब पहुंच गए थे।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।