Breaking News

दिलो में दरार, कुर्सी की चाह में कांग्रेस नेता बस में सवार: बराला

BJP,State,President,Subhash Barla

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने किया कांग्रेस की बस यात्रा पर कटाक्ष

रोहतक(सच कहूँ न्यूज)। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने कांग्रेस नेताओं द्वारा शुरू की गई बस यात्रा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि बस पर सवार केवल वहीं कांग्रेसी नेता है, जिन्हें प्रदेश की जनता से कोई लेना देना नहीं है, वे सिर्फ कुर्सी की चाह में बस में सवार हुए है, लेकिन अभी भी उनके दिलों में दरार है। साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस द्वारा शुरू की गई प्रदेश में बस यात्रा से कोई फर्क नहीं पडेगा, क्योकि लोगों को पता है कि दस साल के शासनकाल में कांग्रेस ने सिर्फ अपने चहेतों को फायदा पहुंचाया है। उन्होंने कहा कि भाजपा एक ऐसी पार्टी है, जिसने समान काम समान विकास की नीति पर काम कर रही है और इसी के चलते आज विपक्ष के नेता भाजपा में शामिल हो रहे है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनेगी

उन्होंने कहा कि विपक्ष के कई बडे नेता भी संपर्क में है, जो जल्द भाजपा पार्टी में शामिल होंगे। यह बात उन्होंने मंगलवार को हुड्डा काम्पलेक्स स्थित प्रदेश मुख्यालय में युवा कांग्रेस के राष्टÑीय महासचिव देवेन्द्र कादियान को पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। उन्होंने पार्टी में शामिल होने वाले लोगों को पूरा मान सम्मान देने का आश्वासन दिया। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि देश व प्रदेश की जनता भाजपा द्वारा किए गए विकास कार्यो से प्रभावित है और दोबारा से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री व हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनेगी।

कांग्रेस द्वारा शुरू की गई बस यात्रा को लेकर भी उन्होंने प्रतिक्रिया दी और कहा कि इस बस यात्रा से कांग्रेस नेताओं की फूट भी सबसे सामने जगजाहिर हो गई है, क्योकि समन्वय समिति की पहली बैठक में भी कांग्रेस के दिग्जि नदारद रहे और यही हाल बस यात्रा में भी दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि जींद उपचुनाव में भी कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में सभी दिग्गिजों ने एक होने का प्रयास किया था, लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी को हार का सामना करना पड़ा।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019