भाजपा सरकार ने दिल्ली के 40 लाख गरीबों को घर का हक दिया : मोदी

0
BJP government gives home rights to 40 lakh poor people of Delhi: Modi

झूठे चुनावी वादों के कारण इन लोगों को अपने हक से वंचित रहना पड़ा | Pm Modi

रामलीला मैदान में उमड़ा जन सैलाब

दिल्ली के झुग्गी झोंपडी के 40 लाख लोगों के चेहरे पर यह सब स्पष्ट दिखाई दे रहा है

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी दलों (BJP government gives home rights to 40 lakh poor people of Delhi: Modi) पर दिल्ली के गरीबों को वोट के लिए गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने ईमानदारी से काम कर 40 लाख लोगों के अपना घर होने का सपना पूरा कर उनके चेहरे पर मुस्कान लायी है। मोदी ने रविवार को यहां रामलीला मैदान में विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि व्यक्ति के जीवन से जब अनिश्चितता हट जाती है और एक बड़ा संकट निकल जाता है तो उसका चेहरा दमकने लगता है और दिल्ली के झुग्गी झोंपडी के 40 लाख लोगों के चेहरे पर यह सब स्पष्ट दिखाई दे रहा है।

संसद के शीतकालीन सत्र में दोनों सदनों में इस विधेयक को पारित कराया

प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से यहां के लोगों के जीवन में अपनी जमीन और अपने जीवन की पूंजी पर संपूर्ण अधिकार दिलान का सौभाग्य भाजपा की सरकार को मिला है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने दिल्ली की जनता के इस अधिकार में रोड़े अटकाए उनको समझ लेना चाहिए कि इसमें कितना खुशी थी इसका परिणाम यहां रामलीला मैदान में उमड़ा जन सैलाब है। झूठे चुनावी वादों के कारण इन लोगों को अपने हक से वंचित रहना पड़ा और दिल्ली की बड़ी आबादी का जीवन सीलिंग और बुल्डोजर से घर मिटाने के भय तक सिमिट गया था।

  • विपक्षी दलों पर चुनावी वादों को पूरा नहीं करने का आरोप लगाया।
  • लगाते हुए उन्होंने कहा कि इन गरीबों के लिए ईमानदारी से कभी काम नहीं हुआ है।
  • भाजपा की सरकार बनी तो उसने लोगों के लिए ईमानदारी से काम किया।
  • 40 लाख झुग्गीवासियों के चेहरे पर स्थायी मुस्कान दी है।

12 कालोनियों के नक्शे पोर्टल पर डाल दिए गये | Pm Modi

प्रधानमंत्री ने कहा कि वह लोगों की समस्याओं को समझते थे इसिलए उन्होंने इस मार्च में यह काम अपने हाथ में लिया और अक्टूबर में इसको लेकर एक विधेयक तैयार कराया। संसद के शीतकालीन सत्र में दोनों सदनों में इस विधेयक को पारित कराया। कालोनियों की नियमतीकरण का फैसला लिया और नयी राजनीति का रास्ता अपनाते हुए 12 कालोनियों के नक्शे पोर्टल पर डाल दिए गये हैं।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।