डायबिटीज ही नहीं इन बीमारियों का भी काल है करेला

0
Bitter Gourd

डायबिटीज ही नहीं इन बीमारियों का भी काल है करेला

(Bitter Gourd)

डायबिटीज: टाइप- 2 डायबिटीज के रोगियों के लिए करेला वरदान स्वरूप है। यह शरीर में इंसुलिन बनाएं रखते हैं। साथ ही शुगर लेवल को कंट्रोल में रखता है।

स्वस्थ लिवर: कई पौष्टिक गुणों से भरपूर करेला लिवर को स्वस्थ रखने में मदद करता है। यह लिवर को साफ कर इसकी कोशिकाओं को बनाने का काम करता है। इसके सेवन से लिवर स्वस्थ रहता है और इससे संबंधित परेशानियों के होने के चांचिस कम रहते हैं।

वजन घटाएं: करेला में विटामिन, कैल्शियम, आयरन, फाइबर, एंटी-आॅक्सीडेंट आदि गुण होते हैं। यह पाचन तंत्र मजबूत करने में मदद करता है। यह मेटाबॉलिज्म दर को बढ़ाकर कैलोरी को तेजी से बर्न करने में फायदेमंद होता है। ऐसे में वेट लूज करने में मदद मिलती है।

किडनी का स्टोन: किडनी स्टोन के पेशेंट को अपनी डाइट में करेले का सेवन जरूर करना चाहिए। इसमें आयुर्वेदिक गुण होने से पथरी टूट कर यूरिन के जरिए बाहर निकल जाती है।

सांस से जुड़ी समस्याएं:  नियमित करेला खाने से थमा व ब सांस से जुड़ी समस्याओं से राहत मिलती है।

कैंसर से बचाव:  इसमें एंटी-आॅक्सीडेंट, एंटी- बैक्टीरियल, एंटी- कैंसर आदि गुण होते हैं। एक रिसर्च के मुताबिक, करेला शरीर में कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने नहीं देता है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।