सरदूलगढ़ के बी.डी.पी.ओ. का तबादला, उसका पत्र भी वापिस लेने के आदेश

0
Transfer

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सरदूलगढ़ के खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी(बीडीपीओ) के अपने स्तर पर जारी किये गए पत्र का गंभीर संज्ञान लेते हुये इसे वापिस लेने तथा अधिकारी के तबादले के आदेश दिये हैं। एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुये बताया कि बीडीपीओ के पत्र में यह दावा किया गया था कि राज्य सरकार ने किसान धरनों के लिये इंतजाम किया है। प्रवक्ता ने स्पष्ट किया कि राज्य सरकार ने ऐसे किसी धरना प्रदर्शन का इंतजाम नहीं किया है जैसा की बीडीपीओ के पत्र में दावा किया गया है।

प्रवक्ता के अनुसार मुख्यमंत्री बल्कि कोरोना के चलते किसानों से और अन्य राजनीतिक दलों से भी कोई सार्वजनिक सभा, प्रदर्शन या धरने आयोजित नहीं करने का अनुरोध किया है। प्रवक्ता ने बताया कि अति उत्साहित बीडीपीओ ने अपने स्तर पर ही 21 सितम्बर को किसान धरने का ऐलान कर दिया और अपने ब्लॉक के अतर्गत सभी पंचायत सचिवों को पत्र जारी कर सभी सरपंचों को इनमें शामिल होने के लिए कहा। अधिकारी ने यह भी दावा किया था कि इन धरनों में मंत्री और विधायक भी शामिल होंगे। प्रवक्ता ने स्पष्ट किया कि राज्य सरकार ने किसी भी अधिकारी को इस तरह का पत्र जारी करने के निर्देश नहीं दिये हैं।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।