बरोदा उपचुनाव में किसी षड्यंत्र को कामयाब नहीं होने देंगे: भूपेन्द्र हुड्डा

0
Baroda will not allow any conspiracy to succeed in the by-election Bhupendra Hooda

भाजपा पर लगाया शराब, रुपए, सिलेंडर बांटने और सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग का आरोप (Baroda by-election)

  • कृषि संबंधित नए तीन बिलों में एमएसपी गारंटी का नहीं कोई प्रावधान, मुख्यमंत्री बोल रहे झूठ

सच कहूँ/नवीन मलिक रोहतक। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने कहा कि (Baroda by-election) बरौदा उपचुनाव में भाजपा अपनी हार को देख कर बौखला गई है और सरेआम लोगों को प्रलोभन दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कहीं पर शराब तो कहीं रुपए व गैस सिलेंडर तक बांटे जा रहे हैं। इस बारे में उन्होंने चुनाव आयोग को शिकायत भेजी है। उन्होंने कहा कि चुनाव में सरकार के किसी भी षड्यंत्र को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा और बरौदा की जनता पूरी तरह से सजग है और कांग्रेस प्रत्याशी भारी बहुमत से जीत हासिल करेगा। वे सोमवार को डी पार्क स्थित आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
साथ ही पूर्व सीएम हुड्डा ने कहा कि हाल में केन्द्र सरकार द्वारा कृषि संबधित तीनों बिलों में एमएसपी गारंटी का कोई प्रावधान नहीं किया गया है और मुख्यमंत्री झूठ बोलकर किसानों को गुमराह कर रहे है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकार सरकार नाम की कोई चीज नहीं है। आज किसान अपनी फसलो को बेचने के लिए दर दर की ठोकरें खाने पर मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा व पंजाब के बीच तीन मुख्य विवाद है, जिनमें एसवाईएल का मुद्दा प्रमुख है। सुप्रीम कोर्ट भी एसवाईएल को लेकर हरियाणा के हक में अपना फैसला दे चुकी है, लेकिन फिर भी सरकार प्रदेश के लोगों को उनके हिस्से का पानी दिलाने में असफल रही है। पूर्व सीएम हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी देश व प्रदेश में किसानों के साथ खड़ी है। सरकार को फसलों पर एमएसपी की गारंटी का कानून लाना चाहिए, लेकिन सरकार को पूंजीपतियो से मतलब है कि किसानों से नहीं। उन्होंने कहा कि बरौदा चुनाव हरियाणा की दशा व दिशा तय करेगा।

20 साल पहले 85 विधायकों वाली सरकार चलती कर दी थी

उन्होंने कहा कि इतिहास गवाह है कि बीस साल पहले महम में हुए उपचुनाव में 85 सीटों वाली सरकार को चलता कर दिया था। उन्होंने बरौदा उपचुनाव में भाजपा सरकार के किसी भी षड्यंत्र को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा, क्योंकि आज प्रदेश का हर वर्ग सरकार की नीतियों के विरोध में सड़कों पर आंदोलन करने पर मजबूर है। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदूषण रोकने में प्रदेश सरकार पूरी तरह से विफल साबित हुई है। उन्होंने कहा कि पराली जलाने से रोकने के लिए सरकार को किसानों को पराली पर एमएसपी देना चाहिए, जिससे किसानों को लाभ मिल सके। प्रदेश सरकार द्वारा लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाए जाने के सवाल पर पूर्व सीएम ने चुप्पी साध ली और कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है और अपराधी किसी जाति व समुदाय के नहीं होते, अपराधी तो अपराधी होते है और उनके खिलाफ सख्त कारवाई करनी चाहिए। इस अवसर पर विधायक भारत भूषण बतरा, अशोक अरोड़ा, संत कुमार व चक्रवर्ती शर्मा प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।