बरोदा उपचुनाव बना मनोहर लाल और भूपेन्द्र हुड्डा के लिए नाक का सवाल

0
Baroda-by-election

आज प्रचार के आखरी दिन, हुड्डा परिवार ने झोंकी पूरी ताकत

  • कांग्रेस के इंदुराज नरवाल और भाजपा के योगेश्वर दत्त आमने-सामने
  • 3 नवंबर को डाले जाएंगे वोट, 10 को आएगा परिणाम

अश्वनी चावला चंडीगढ़। बरोदा उपचुनाव के लिए आज रविवार को प्रचार का आखिरी दिन है, जिसके चलते सभी दिग्गज नेताओं ने अपनी पूरी ताकत चुनाव के आखिरी दिन झोंक दी है, जहां एक तरफ भाजपा के सभी दिग्गज अलग-अलग स्तर पर आखिरी दिन चुनाव जनसभाओं करने में व्यस्त हैं। वहीं भूपेंद्र सिंह हुड्डा के सहित राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा आधे दर्जन से ज्यादा जनसभाओं को संबोधित करेंगे। बरोदा उपचुनाव में टक्कर भले ही कांग्रेस के इंदु राज व भाजपा के योगेश्वर दत्त के बीच में हो। परंतु असली दंगल हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर व पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बीच में चल रहा है। दोनों ने अपनी पूरी ताकत इस चुनाव में झोंक दी है। वहीं दूसरी तरफ इनेलो इस सीट को अपनी साख बचाने के लिए लड़ती नजर आ रही है।

खुद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी प्रचार का मोर्चा संभाले हुए हैं

बरोदा उपचुनाव से भाजपा के पहले साल का कार्यकाल जोड़कर भी देखा जा सकता है, जिस कारण ही भाजपा किसी भी हालत में इस सीट को हारना नहीं चाहती है, क्योंकि अगर यह सीट उनके हाथों से फिसल जाती है तो सरकार की 1 साल के कामों पर सवालिया निशान लग जाएगा। इसलिए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ अपने संगठन की पूरी टीम के साथ पिछले 1 सप्ताह से बरोदा में ही डटे हुए हैं।

वहीं खुद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी प्रचार का मोर्चा संभाले हुए हैं। इतना प्रचार तो उन्होंने खुद की सीट करनाल में भी नहीं किया था।  बरोदा सीट को लेकर चुनाव 3 नवंबर को हाना है। जबकि इस सीट पर होने वाला प्रचार रविवार शाम 5 बजे से बंद हो जाएगा। इसके पश्चात किसी भी तरह के नुक्कड़ सभा या फिर रैली इस उपचुनाव में नहीं हो पाएगी। आज के बाद सिर्फ डोर-टू-डोर ही प्रचार उम्मीदवार की तरफ से किया जा सकता है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।