ऑटो हुआ दुर्घटनाग्रस्त, महिला औरबच्चों को पुलिस ने सकुशल बचाया

0
12
Auto crashes, women and children rescued safely by police

दूसरे ऑटो का प्रबंध कर किराया देकर पहुंचाया घर (Auto crashes)

सच कहूँ/राजेन्द्र दहिया फरीदाबाद। फरीदाबाद की सेक्टर-11 चौकी प्रभारी सब-इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार व टीम ने दुर्घटनाग्रस्त ऑटो में बैठी महिला व बच्चों को सही सलामत ऑटो से बाहर निकालकर दूसरे ऑटो का प्रबंध किया और खुद से किराया देकर उन्हें उनके घर पहुंचाया। घटना सोमवार देर रात की है, जब सेक्टर 11 चौकी प्रभारी सब-इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार अपनी टीम के साथ अजरोंदा चौक के आस-पास गश्त कर रहे थे। उसी दौरान एक ऑटो बीके हस्पताल से अजरोंदा की तरफ आ रहा था और पुल से नीचे उतरते वक्त संतुलन खोने की वजह से ऑटो डिवाइडर से जा टकराया और क्षतिग्रस्त हो गया।

चौकी प्रभारी ऑटो को देखकर तुरंत अपनी टीम के साथ ऑटो के पास पहुंचे। ऑटो दुर्घटनाग्रस्त होने की वजह से टेढ़ा हो चुका था। क्षतिग्रस्त होने की वजह से सवारियां ऑटो में फंस गई थी, परन्तु कम्बल ओढ़े रहने की वजह से किसी को कोई शारीरिक हानि नहीं हुई। पुलिस टीम ने लोहे की रोड से ऑटो की एंग्लों को सीधा किया और सवारियों को सकुशल बाहर निकाला, जिनमे ऑटो चालक विष्णु, उसकी पत्नी और 3 बच्चे शामिल थे। ऑटो चालक विष्णु ने बताया कि वह सेक्टर 21बी के रहने वाले हैं और किसी जरूरी काम से यहां आए हुए थे और अभी वापिस अपने घर जा रहे थे कि संतुलन खोने की वजह से ऑटो दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

पुलिस टीम का मदद के लिए धन्यवाद किया

चौकी प्रभारी सब-इंस्पेक्टर प्रदीप ने उनकी मदद के लिए दूसरे ऑटो को रुकवाया व विष्णु व उसके परिवारजनों को उसमें बैठाया। इसके बाद चौकी प्रभारी ने ऑटोचालक विष्णु को घर तक पहुँचाने का किराया दिया और सकुशल उसे घर तक छुड़वा दिया। विष्णु व उसके पूरे परिवार ने पुलिस टीम को उनकी मदद के लिए धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि पुलिस इतनी रात को भी हम लोगों की सहायता के लिए मौजूद रहती है और हमारी परेशानी को अपनी परेशानी समझकर उसको हल करने का प्रयास करती है, जिसके लिए हम पुलिस आयुक्त ओ.पी. सिंह, पुलिस चौकी की टीम के साथ-साथ पूरी फरीदाबाद पुलिस का धन्यवाद किया।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।